लाइव टीवी

इमरान खान का मौलाना को जवाब- इस्लाम के नाम पर सत्ता हथियाने के दिन लद गए

News18Hindi
Updated: November 2, 2019, 1:44 PM IST
इमरान खान का मौलाना को जवाब- इस्लाम के नाम पर सत्ता हथियाने के दिन लद गए
इमरान को इस्तीफा देने के लिए 2 दिन की मोहलत दी है

पाकिस्तान (Pakistan) की सबसे बड़ी धार्मिक पार्टी के मुखिया मौलाना फजलुर रहमान ने तख्तापलट के लिए मुहिम छेड़ दी है. कहा जा रहा है कि करीब 1 लाख समर्थकों के साथ वो आज़ादी मार्च कर रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2019, 1:44 PM IST
  • Share this:
इस्लामाबाद. पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) के खिलाफ विरोध प्रदर्शन लागातार जारी है. मौलाना फजलुर रहमान (Maulana Fazlur Rahman) ने उन्हें कुर्सी छोड़ने के लिए 48 घंटे का अल्टिमेटम दिया है, लेकिन इमरान खान प्रदर्शनकारियों की बातों पर ध्यान देने के लिए तैयार नहीं है. उन्होंने दो टूक शब्दों में कहा है कि वो मौलाना के समर्थकों को खाना-पीना भेजते रहेंगे, लेकिन कुर्सी नहीं छोड़ेंगे.

गिलगिट में एक रैली को संबोधित करते हुए इमरान खान ने कहा, 'वो दिन लद गए, जब लोग सत्ता हथियाने के लिए इस्लाम का इस्तेमाल करते थे. ये नया पाकिस्तान है. आपको जितनी देर प्रदर्शन करना है कीजिए. जब आपका खाना खत्म हो जाएगा हम आपको और भेज देंगे लेकिन कुर्सी नहीं छोड़ेंगे.'

बता दें कि इमरान खान की सरकार पर एक के बाद एक नया संकट गहराता जा रहा है. अर्थव्यवस्था, विदेश नीति और विकास के मुद्दों पर संकटों में घिर चुकी इमरान सरकार के सिर पर ताज़ा संकट है विपक्षियों के विरोध का. पाकिस्तान की कथित सबसे बड़ी धार्मिक पार्टी के मुखिया एक मौलाना ने पाकिस्तान में तख्तापलट के लिए मुहिम छेड़ दी है. कहा जा रहा है कि करीब 1 लाख समर्थकों के साथ वो आज़ादी मार्च कर रहे हैं.

रहमान ने इमरान सरकार को सत्ता से बेदखल करने के मकसद से 'आजादी मार्च' शुरू किया है. उन्होंने इमरान को इस्तीफा देने के लिए 2 दिन की मोहलत दी है. दक्षिणपंथी जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम फजल (जेयूआई-एफ) के प्रमुख मौलाना फजलुर रहमान ने 27 अक्टूबर को अन्य विपक्षी दलों के नेताओं के साथ दक्षिणी सिंध प्रांत से 'आजादी मार्च' शुरू किया था जो गुरुवार को इस्लामाबाद पहुंचा.

ये भी पढ़ें- नुसरत जहां ने साड़ी पहनकर शेयर की ऐसी Photo, लोगों ने कहा- ये क्या फैशन है?

कांग्रेस सांसद ने सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी, कहा- शिवसेना को दें समर्थन

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दुनिया से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 2, 2019, 12:35 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...