पाकिस्‍तान में ब्‍लैकमेलिंग पर उतरीं महिलाएं, पीड़ितों में पुरुष भी शामिल

पाकिस्‍तान में 70 फीसदी मामले महिलाओं द्वारा ब्लैकमेल करने से संबंधित बताए गए हैं.
पाकिस्‍तान में 70 फीसदी मामले महिलाओं द्वारा ब्लैकमेल करने से संबंधित बताए गए हैं.

महिलाओं को ब्‍लैकमेल करने के मामले में उनके वर्तमान और पूर्व पति, मंगेतर और पुरुष दोस्त शामिल होते हैं. वहीं कराची में तैनात सहायक निदेशक महविश खान ने कहा कि न केवल महिलाएं ही, बल्कि पुरुष भी ब्लैकमेल किए जा रहे हैं.

  • Share this:
इस्‍लामाबाद. पाकिस्‍तान (Pakistan) में अश्‍लील तस्‍वीरों और वीडियो के माध्यम से महिलाओं को ब्लैकमेल (Blackmail) करने की घटनाओं में वृद्धि हुई है. एफआईए से प्राप्त आंकड़ों के अनुसार पिछले साल और इस साल के पहले चार महीनों में पाकिस्तान के तीन प्रमुख शहरों कराची (Karachi), लाहौर (Lahore) और इस्लामाबाद (Islamabad) में कुल 95 साइबर अपराध (Cybercrime) के मामले दर्ज किए गए, जिनमें से 70 फीसदी यानी 67 मामले महिलाओं द्वारा ब्लैकमेल करने से संबंधित थे. इन मामलों में मामला दर्ज कराने वाली भी महिलाएं थीं.

आंकड़ों के अनुसार, इस अवधि के दौरान कराची में कुल 39 मामले दर्ज किए गए, जिनमें से 31 महिलाओं को ब्लैकमेल करने से संबंधित थे, जबकि 8 में बैंक धोखाधड़ी, हैकिंग, आईडी की चोरी और निर्दोष लोगों को लूटना शामिल है. 'हमारी वेब डॉट कॉम' की खबर के हवाले से बताया गया है कि इसी तरह लाहौर में इसी अवधि में 36 मामले दर्ज किए गए और ब्लैकमेल करने के 26 मामले दर्ज किए गए, जबकि 28 मामले इस्लामाबाद में दर्ज किए गए, जिनमें से 18 मामले ब्लैकमेल से संबंधित थे.

अधिकांश मामलों में अपने करीबी ही शामिल
एफआईए के अनुसार शिक्षित महिलाएं अपनी अश्‍लील तस्वीरें और वीडियो बनवाती हैं. इस मामले में शिक्षित पुरुष भी ब्लैकमेलिंग में शामिल होने की वजह से गिरफ्तार किए जा रहे हैं. हालांकि अधिकांश मामले लंबित हैं. एजेंसी का कहना है कि महिलाओं को ब्‍लैकमेल करने के मामले में उनके वर्तमान और पूर्व पति, मंगेतर और पुरुष दोस्त शामिल होते हैं. वहीं कराची में तैनात सहायक निदेशक महविश खान ने कहा कि न केवल महिलाएं ही, बल्कि पुरुष भी ब्लैकमेल किए जा रहे हैं.
गौरतलब है कि शिक्षित महिलाएं अपना समय सोशल मीडिया पर गुजारती हैं, ऐसे में अपराधी तत्‍व महिलाओं और पुरुषों के अकेलेपन को भांप कर उनसे दोस्‍ती गांठते हैं और फिर उनके अश्‍लील वीडियो और तस्‍वीरें ले लेते हैं. इसके बाद उन्‍हें ब्‍लैकमेल करके रुपये ऐंठते हैं. हैरत की बात यह है कि इस तरह के अपराधों में महिलाएं भी शामिल पाई जा रही हैं. वे महिलाओं को अपनी मीठी बातों में फंसा कर उनको ब्‍लैकमेल करती हैं.



ये भी पढ़ें - दक्षिण अफ्रीका के 116 साल के फ्रेडी कभी हॉस्पिटल नहीं गए, मनाया जन्मदिन

                 ब्रिटेन में कोरोना के खौफ में 3 लाख लोगों ने छोड़ दिया धूम्रपान : सर्वे

                PAK Lockdown : अगले नौ महीनों में 50 लाख बच्‍चों के पैदा होने की उम्‍मीद

 
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज