30,000 लोगों पर शुरू Corona वैक्सीन का सबसे बड़ा ट्रायल, जल्दी मिलेगी दवा

30,000 लोगों पर शुरू Corona वैक्सीन का सबसे बड़ा ट्रायल, जल्दी मिलेगी दवा
प्रतीकात्मक तस्वीर.

वॉलंटिअर्स को यह नहीं बताया गया है कि उन्हें असली दवा (Medicine) दी जा रही है या डमी. दो डोज देने के बाद उन्हें मॉनिटर किया जाएगा.

  • Share this:
वाशिंगटन. कोरोना वायरस की वैक्सीन का एकसाथ 30 हजार इंसानों पर शुरू हो रहा है. इसमें लोगों को मॉडर्ना आईएनसी (Moderna Inc) की बनाई वैक्सीन दी गई है. यह वैक्सीन उन चुनिंदा कैंडिडेट्स में से है जो कोराना वायरस (Coronavirus) से लड़ने की रेस के आखिरी चरण में हैं. नैशनल इंस्टिट्यूट्स ऑफ हेल्थ ऐंड और मॉडर्ना इंक की बनाई एक्सपेरमेंटल वैक्सीन वायरस से बचाव कर पाएगी इसकी फिलहाल कोई गारंटी नहीं है. इसलिए यह स्टडी की गई है.

वॉलंटिअर्स को यह नहीं बताया गया है कि उन्हें असली दवा दी जा रही है या डमी. दो डोज देने के बाद उन्हें मॉनिटर किया जाएगा. यह देखा जाएगा कि कि कौन से ग्रुप को इन्फेक्शन होता है. यह स्टडी खासकर ऐसे इलाकों में की गई है जहां अभी भी तेजी से वायरस फैल रहा है. मॉडर्ना की पहली स्टेज की स्टडी में 45 वॉलंटिअर्स पर वैक्सीन का असर देखा गया था. इसमें वॉलंटिअर्स के इम्यून सिस्टम में बचाव पैदा हुआ था. बुखार और दर्द जैसे मामूली साइड इफेक्ट्स भी पाए गए थे. अमेरिका चाहता है कि देश में इस्तेमाल होने वाली वैक्सीन का टेस्ट वह खुद करे. हर महीने एक कैंडिडेट का 30 हजार वॉलंटिअर्स पर टेस्ट होगा. इस टेस्ट में यह भी देखा जाएगा कि ये वैक्सीन कितनी सुरक्षित हैं. इसके बाद वैज्ञानिक इन वैक्सीनों की तुलना करेंगे. अगले महीने ऑक्सफोर्ड की वैक्सीन का टेस्ट होगा और फिर सितंबर में जॉनसन्स एंड जॉनसन्स, अक्टूबर में नोवावैक्स की स्टडी होगी. फाइजर आईएनसी अपने आप 30 हजार वॉलंटिअर्स पर स्टडी करेगा.

ये भी पढ़ें: दो बार ऑस्कर विनर रहीं ओलिविया डी हैविलैंड का 104 की उम्र में निधन



पहले चरण का ट्रायल सफल
अमेरिका की मॉडर्ना आईएनसी की mRNA 1273 वैक्सीन के अलावा ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी के जेनर इंस्टिट्यूट की वैक्सीन AZD1222 भी इंसानों पर पहले चरण के ट्रायल में सफल रही है. इसे दिए जाने पर वॉलंटिअर्स में ऐंटीबॉडी और किलर टी-सेल्स पाए गए हैं. ऑक्सफर्ड की वैक्सीन क उत्पादन भारत में करने के लिए सीरम इंस्टिट्यूट ऑफ इंडिया ने एस्ट्राजेनेका के साथ डील की है. वहीं, चीन की कैनसिनो की वैक्सीन ने भी इंसानों पर आखिरी चरण में जाने का दावा किया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading