उत्तर पश्चिम यूरोप में मौसम गर्म होने के कारण वायरस को लेकर चिंता बढ़ी

बेल्जियम में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 876,000 से अधिक मामले सामने आये हैं  
(प्रतीकात्मक तस्वीर)

बेल्जियम में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 876,000 से अधिक मामले सामने आये हैं (प्रतीकात्मक तस्वीर)

बेल्जियम में पारा 24.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है. इसके बाद देश में हजारों लोग पार्क एवं समुद्र तटों की ओर निकल गये. अच्छा मौसम के शुक्रवार एवं ईस्टर सप्ताहांत तक रहने की संभावना है.

  • Share this:
ब्रसेल्स. उत्तर-पश्चिमी यूरोप (North West Europe) के अधिकांश हिस्से में बुधवार को मौसम असामान्य रूप से गर्म रहा, जिसके कारण लोगों ने नतीजों की परवाह किए बिना अपने घरों से बाहर का रुख किया जबकि महाद्वीप के इस भाग में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों (Coronavirus Cases) को लेकर चिंता भी बढ़ गयी है.

बेल्जियम (Belgium) में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं और वर्ष के प्रारंभ में यहां इतना अधिक तापमान कभी नहीं हुआ जबकि इंग्लैंड में मार्च महीने में बुधवार को तापमान सर्वकालिक उच्च स्तर पर पहुंच गया . इंग्लैंड में कोविड-19 के नये मामलों में भारी गिरावट होने के बाद पाबंदियों में ढील दी गयी है.

ये भी पढ़ें- दिल्ली से मेरठ का सफर सिर्फ 50 मिनट में, 1 अप्रैल से मेरठ एक्सप्रेस-वे को खोलने की तैयारी

बेल्जियम में पारा 24.5 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया है . इसके बाद देश में हजारों लोग पार्क एवं समुद्र तटों की ओर निकल गये. अच्छा मौसम के शुक्रवार एवं ईस्टर सप्ताहांत तक रहने की संभावना है .
देश की सरकार को तीसरी लहर की चिंता

धूप भरा मौसम बेल्जियम के 1.15 एक करोड़ लोगों के खुशखबरी से कम नहीं है क्योंकि उन्होंने हाल में हाड़ कंपकंपा देने वाली सर्दी को झेला है. हालांकि देश की सरकार को संक्रमण की तीसरी लहर को लेकर चिंता है.

बेल्जियम में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण के 876,000 से अधिक मामले सामने आये हैं और 23,000 लोगों की मौत हो चुकी है.



(Disclaimer: यह खबर सीधे सिंडीकेट फीड से पब्लिश हुई है. इसे News18Hindi टीम ने संपादित नहीं किया है.)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज