Home /News /world /

डब्ल्यूटीओ ने भारत से पूछा, 2022 तक कैसे दोगुनी करेंगे कृषि आय

डब्ल्यूटीओ ने भारत से पूछा, 2022 तक कैसे दोगुनी करेंगे कृषि आय

डब्ल्यूटीओ के सदस्य देशों ने 25-26 जून को होने वाली बैठक के लिए 62 पेज में सवाल सौंपे हैं. ये सवाल सोमवार को सामने आए.

डब्ल्यूटीओ के सदस्य देशों ने 25-26 जून को होने वाली बैठक के लिए 62 पेज में सवाल सौंपे हैं. ये सवाल सोमवार को सामने आए.

अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया ने कृषि उत्पादों के ट्रांसपोर्ट व मार्केटिंग को लेकर भारत की नई योजना का ब्योरा मांगा है. ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि भारत सरकार की ओर से इस तरह से कृषि उत्पादों के निर्यात पर दी जाने वाली सब्सिडी खत्म की जानी चाहिए. साथ ही भारत से पूछा गया है कि कृषि पर 25 लाख करोड़ रुपये किस तरह खर्च किया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...
    अमेरिका और भारत की बड़ी कृषि समर्थन योजनाओं की विश्व व्यापार संगठन (WTO) के अन्य सदस्य देश बारीकी से जांच कर रहे हैं. इन सदस्य देशों ने डब्ल्यूटीओ की कृषि समिति को तिमाही बैठक के लिए भारत की कृषि योजनाओं से जुड़े कुछ सवाल सौंपे हैं. बता दें कि डब्ल्यूटीओ ने कृषि योजनाओं में भुगतान के आकार और प्रकृति को लेकर सख्त नियम बनाए हुए हैं. सभी सदस्य देश दूसरे प्रतिस्पर्धी देश की ओर से की जाने वाली संभावित धोखाधड़ी पर पैनी नजर रखते हैं.

    संगठन के सदस्य देशों ने 25-26 जून को होने वाली बैठक के लिए 62 पेज में सवाल सौंपे हैं. ये सवाल सोमवार को सामने आए. इनमें कुछ मुद्दों पर अमेरिका और भारत से स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है. दरअसल, कृषि आय में बढ़ोत्तरी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्राथमिकताओं में हैं. ट्रंप चीन के साथ टैरिफ वॉर के जरिये घरेलू नुकसान की भरपाई करने की कोशिश में जुटे हैं तो पीएम मोदी कृषि आधारित अर्थव्यवस्था में गिरावट की चुनौती से जूझ रहे हैं.

    यूरोपीय संघ ने भारत से किया है सवाल 

    यूरोपीय संघ ने भारत से स्पष्ट करने को कहा है कि मोदी ने कृषि और ग्रामीण विकास पर 25 लाख करोड़ रुपये खर्च करने का प्रस्ताव कैसे किया. साथ ही यह भी पूछा है कि 2022 तक किसानों की आय दोगुनी कैसे की जाएगी. यूरोपीय संघ ने पूछा है कि कृषि उत्पादों के वैश्विक बाजार मूल्य को ध्यान में रखते हुए यह कैसे संभव हो पाएगा? अमेरिका ने गैर-बासमती चावल के निर्यात पर 5 फीसदी सब्सिडी को लेकर भारत से सवाल किया है. साथ ही रिकॉर्ड पैदावार के बावजूद भारत के बढ़ती कीमतों पर गेहूं खरीदने को लेकर भी सवाल पूछा है. उसका कहना है कि भारत गेहूं के रिकॉर्ड भंडार की ओर बढ़ रहा है.

    ट्रंप के बाजार सरलीकरण पैकेज पर उठे सवाल 

    अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया ने कृषि उत्पादों के ट्रांसपोर्ट व मार्केटिंग को लेकर भारत की नई योजना का ब्योरा मांगा है. ऑस्ट्रेलिया ने कहा है कि भारत सरकार की ओर से इस तरह से कृषि उत्पादों के निर्यात पर दी जाने वाली सब्सिडी खत्म की जानी चाहिए. ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, चीन, यूरोपीय संघ, भारत, न्यूजीलैंड और यूक्रेन ने ट्रंप की 16 अरब डॉलर के बाजार सरलीकरण पैकेज को लेकर अमेरिका से सवाल पूछा है. चीन का कहना है कि अमेरिका इस पैकेज के जरिये उत्पाद मूल्य के 5 फीसदी की तय सीमा का उल्लंघन कर रहा है.

    ये भी पढ़ें:

    सेब से लेकर मूंगफली तक, अमेरिका के इन 28 चीजों पर भारत ने बढ़ाई इम्पोर्ट ड्यूटी

    इमरान खान सरकार ने किया बड़ा कर्ज मिलने का ऐलान, बैंक ने कर दी फज़ीहत

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स

    Tags: America, Australia, India agriculture, Pm narendra modi, United States (US)

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर