कोरोना के चलते जिस चीनी डॉक्टर का चेहरा पड़ गया था काला, अब इस हाल में हैं वो

वुहान में संक्रमित हुए डॉक्टर की त्वचा का रंग सामान्य हुआ.
वुहान में संक्रमित हुए डॉक्टर की त्वचा का रंग सामान्य हुआ.

Coronavirus Update: चीन (China) के वुहान (Wuhan) अस्पताल में काम करने वाले 42 वर्षीय डॉक्टर यी फेन (Yi Fan) लोगों का इलाज करने के दौरान खुद भी संक्रमित हो गए थे और अप्रत्याशित तरीके से उनकी त्वचा का रंग काला पड़ गया था. हालांकि फिलहाल वे स्वस्थ हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 28, 2020, 4:48 PM IST
  • Share this:
बीजिंग. चीन के दो डॉक्टर्स में कोरोना संक्रमित होने के बाद अजीब लक्षण देखे गए थे. न सिर्फ इनके लिवर बुरी तरह खराब हो गए थे बल्कि त्वचा का रंग भी काला पड़ गया था. इन डॉक्टर्स में से एक डॉक्टर हू वेइफेंग की मौत हो गयी थी. हालांकि अच्छी खबर ये है कि दूसरे डॉक्टर यी फेन (Yi Fan) अब ठीक हो गए हैं और उनकी त्वचा का रंग भी अब पहले की ही तरह सामान्य होने लगा है. डॉक्टर यी काफी महीनों बाद सार्वजनिक रूप से सामने आए हैं.

डेली मेल के मुताबिक 42 वर्षीय डॉक्टर यी फेन और डॉक्टर हू वेइफेंग की स्किन का रंग असामान्य रूप से काला पड़ गया था. ये दोनों ही वुहान के हॉस्पिटल में कोरोना पीड़ितों का इलाज कर रहे थे और वहीं से ये दोनों खुद भी संक्रमित हो गए. दोनों ही जनवरी के आखिरी सप्ताह में वुहान सेंट्रल हॉस्पिटल में एडमिट थे. उन्हें लाइफ सपोर्ट पर रखा गया था, हालांकि जब ठीक होकर दोनों ने आंखे खोली तो खुद को पहचान ही नहीं पाए.






डॉक्टर वेइफेंग तो नहीं बच पाए लेकिन डॉक्टर यी फेन (Yi Fan) कई महीनों तक इस बीमारी से जूझने के बाद COVID-19 से पूरी तरह ठीक हो गए हैं. एक प्रवक्ता ने कहा कि उनकी असामान्य त्वचा की टोन एक एंटीबायोटिक दवा के कारण थी जो उन्होंने गहन देखभाल के दौरान ली थी. 42 साल के डॉ. यी फेन वुहान सेंट्रल अस्पताल में एक कार्डियोलॉजिस्ट हैं.

व्हिसल-ब्लोअर डॉक्टर के हैं दोस्त
बता दें कि यी फेन दिवंगत COVID-19 व्हिसल-ब्लोअर ली वेनलियांग (Li Wenliang) के सहयोगी हैं, जिन्होंने वायरस के खतरे को भांपते हुए चीन की हरकत को दुनिया के सामने उजागर किया. उनके इस कदम से बाद वुहान पुलिस ने उन्हें फटकार लगाई थी और फिर ‘बीमारी’ से उनकी मौत हो गई.

शुरुआत से ही कोरोना महामारी ने लोगों के शरीर पर हजारों तरह के प्रभाव डाले हैं, जिन पर आज भी रिसर्च चल रही है. फेन ने एक वीडियो भी जारी किया जिसमें वो अपनी कोरोना वायरस से लड़ने के बारे में बता रहे हैं. उन्होंने मीडिया को बताया कि कोरोना बेहद खतरनाक बीमारी है, जब उन्हें कोरोना संक्रमण के बारे में पता चला तो वे काफी डर गए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज