यमन के हूती विद्रोहियों का दावा- सऊदी के 500 सैनिकों को घर में घुसकर मारा

यमन के हूती विद्रोहियों का दावा- सऊदी के 500 सैनिकों को घर में घुसकर मारा
यमन में साल 2015 से संघर्ष जारी है

पिछले दिनों सऊदी अरब में अरामको के दो बड़े संयंत्रों अब्कैक और खुरैस पर हूती (Huthi) विद्रोहियों ने ड्रोन अटैक किया था

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 1, 2019, 1:31 PM IST
  • Share this:
यमन (Yemen ) के हूती (Huthi) विद्रोहियों ने दावा किया है कि उसने सऊदी में 500 सैनिकों को उसी की धरती हमला कर दिया है. इस हमले में करीब 500 सैनिकों की मौत हो गई, जबकि सैकड़ों घायल है. कहा जा रहा है कि इस हमले में के दौरान सऊदी के कई सैनिकों को बंधक भी बनाया गया है. हूती विद्रोहियों ने इन दावों के साथ वीडियो और फोटो भी शेयर किया है.

इस बीच सऊदी अरब के साथ संघर्ष के बीच हूती विद्रोहियों ने शांति की भी पेशकश की है. हूती विद्रोहियों के समर्थक टीवी चैनलों ने बताया कि विद्रोहियों ने 350 कैदियों को बिना शर्त छोड़ने का ऐलान किया है. कहा जा रही है कि हूती को ईरान का समर्थन हासिल है.

चार साल पहले हूती विद्रोहियों ने राजधानी सना पर कब्ज़ा कर लिया था




बता दें कि पिछले दिनों सऊदी अरब में अरामको के दो बड़े संयंत्रों अब्कैक और खुरैस पर हूती विद्रोहियों ने ड्रोन अटैक किया था. जिसके कारण उन संयंत्रों में आग लग गई थी. रिपोर्ट्स में बताया गया है कि इन हमलों के बाद वहां तेल उत्पादन में हर दिन 50 लाख बैरल की कमी आई है. ये सऊदी अरब के कुल तेल उत्पादन का आधा हिस्सा है. ऐसे में अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल की कीमतों में भारी इजाफा हो रहा है.
यमन में साल 2015 से संघर्ष जारी है. चार साल पहले हूती विद्रोहियों ने राजधानी सना पर कब्ज़ा कर लिया था. इसके बाद राष्ट्रपति अब्दरबू मंसूर हादी को देश छोड़कर भागना पड़ा था. हूती विद्रोहियों का उत्तरी यमन के ज़्यादातर हिस्से पर कब्ज़ा है.

ये भी पढ़ें:

पंजाब पुलिस की बड़ी कार्रवाई, मुठभेड़ के बाद 3 बदमाश गिरफ्तार, 5 AK 47 बरामद

नदी में डूबा iPhone, 15 महीने बाद निकालने पर भी करता रहा काम!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading