बिहार का थावे मंदिर: भक्त रहषु के मस्तक को विभाजित कर देवी ने दिए साक्षात दर्शन

गोपालगंज. जिला मुख्यालय से करीब 6 किलोमीटर दूर सिवान जाने वाले मार्ग पर थावे नाम का एक स्थान है. जहां मां थावेवाली का एक प्राचीन मंदिर है. मां थावेवाली को सिंहासिनी भवानी, थावे भवानी और रहषु भवानी के नाम से भी भक्तजन पुकारते हैं. ऐसे तो सालों भर यहा मां के भक्त आते हैं, लेकिन शारदीय नवरात्र और चैत्र नवारात्र के समय यहां श्रद्धालुओं की भारी भीड़ लगती है. (रिपोर्ट व फोटो- मुकेश कुमार)

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: