हैंगिंग ब्रिज, ट्रैकिंग रूट, हरे-भरे घने जंगलों से घिरा जमुई बनेगा इको टूरिज्म हब, जानें प्लान

जमुई. बिहार के दक्षिण पूर्व दिशा में स्थित प्राकृतिक और वन संपदा से परिपूर्ण जमुई जिला में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए वन पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन विभाग पहल शुरू कर दी है. बिहार का मिनी शिमला कहे जाने वाला जमुई का सिमुलतला का हल्दिया झरना या फिर हर साल हजारों विदेशी पक्षियों से गुलजार होने वाला नागी-नकटी आश्रयणी जहां बिहार का पहला पक्षी महोत्सव हो या भगवान महावीर की जन्मस्थली क्षत्रिय कुंड ग्राम हो या फिर अति मनोरम दृश्य वाली पतनेश्वर पहाड़ी इन जैसे कई जगहों पर इको टूरिज्म को बढ़ावा देने के लिए वन विभाग ने प्लान किया है. (फोटो व रिपोर्ट - के सी कुन्दन)

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
First published: