OMG! युवक के शरीर में घुसे थे 40 फुट लंबे लोहे के दो सरिये, डॉक्टरों ने ऐसे बचाई जान

Operation in Rohtak PGI: कार्डियोलॉजी विभाग के सीनियर प्रोफेसर डॉ. एसएस लोहचब ने बताया कि इस तरह की स्थिति में लोगों को समझदारी बरतनी चाहिए. अगर ऐसी दुर्घटना हो जाती है तो रॉड या सरिया आदि को निकालना नहीं चाहिए बल्कि लम्बा हो तो काटकर उसे छोटा कर मरीज को मेडिकल में ले जाना चाहिए, ताकि उसकी जान बचने की संभावना बढ़ जाए. वहीं करण के पिता कर्मवीर ने बताया कि उसकी तो सारी उम्मीदें खत्म हो चुकी थी, लेकिन पीजीआई के डॉक्टर ने चमत्कार किया है और वे सच में उनके लिए भगवान से कम नहीं है.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: