दीपावली 2021: दूध, दही, घी, गोमूत्र, गोबर व मुल्तानी मिट्टी के 'पंचगव्य दीयों' से जगमग करें घर-आंगन!

धनबाद. दीपावली नजदीक है. एक तरफ कुम्हार की चाक पर मिट्टी के दीये बन रहे हैं तो दूसरी ओर तरह-तरह के आधुनिक से लाइट बाजारों में सज रहे हैं. लेकिन, धनबाद की महिलाएं एक अलग तरह के दीये बनाने में लगी हैं जिसमें पंचगव्य का मिश्रण है. शुद्धता वाली दीप जलने के बाद ये दीये मछली का चारा बन जाएंगे. खेत के लिये खाद का भी काम करेंगे. यानी दीये जब नष्ट भी होंगे तो भी अच्छे कार्य में उपयोग आएंगे. (फोटो व रिपोर्ट-संजय गुप्ता)

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: