देश में पहली बार कैसे हुई CORONA पीड़ित के दोनों फेफड़ों की ट्रांसप्लांट सर्जरी?

चंडीगढ़ निवासी 32 वर्षीय रिज़वान उर्फ मोनू को फेफड़ों के जानलेवा रोग से जूझना पड़ रहा था, जिसे मेडिकल भाषा में सारकॉयडोसिस (Sarcoidosis) कहते हैं. मोनू के कोरोना पॉज़िटिव (Corona Positive) होने के कारण केस और मुश्किल हो गया था.

First published: