वो रेलवे स्टेशन जहां आत्माओं का है वास, रात में नहीं रुकती कोई भी ट्रेन

लगभग 40 सालों तक इस रेलवे स्टेशन (railway station) में घूमने-फिरने के लिए विदेशी सैलानी (foreign tourist) आते रहे, जिन्हें हॉन्टेड टूरिज्म (haunted tourism) में दिलचस्पी थी.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published:
विज्ञापन

विज्ञापन