आजीवन ब्रह्मचारी महर्षि वात्‍स्‍यायन ने कैसे लिख डाला कामशास्त्र जैसा महान ग्रंथ

महर्षि वात्स्यायन (Maharshi Mallanaga Vatsyayana) ने जब दूसरी या तीसरी शताब्दी के दौरान मानव जीवन के लिए उपयोगी एक अलग तरह की किताब "कामसूत्रम" (Book Kamasutram ) लिखी तो तहलका मच गया. उनकी ये किताब सैकड़ों सालों से दुनियाभर में हिट है लेकिन असल हैरानी ये भी है कि आजीवन ब्रह्मचारी होते हुए भी उन्होंने ऐसा ग्रंथ कैसे लिख डाला.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published:
विज्ञापन

विज्ञापन