लाइव ट्रैकिंग सिस्टम से जानिए कि दुनिया के कितने हिस्से को अपनी चपेट में ले चुका कोरोनावायरस

जॉन होपकिन्स व्हाइटिंग स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग ने कोरोनावायरस (coronavirus) को समझने के लिए रियल टाइम ट्रैकिंग सिस्टम की शुरूआत की है. इसके जरिए रियल टाइम में कोरोनावायरस से प्रभावित लोगों के बारे में डेटा जाना जा सकता है. इससे समझिए कि कोरोनावायरस कितने देशों के लिए खतरनाक हो चुका है?

विज्ञापन
First published:
विज्ञापन

विज्ञापन