8 किमी पैदल चलकर स्कूल जाने वाली प्राइमरी टीचर, जो बनी IAS

लेाकप्रिय वाक्य है कि 'शब्दों से ज़्यादा एक्शन प्रभावी होता है' (Action Speaks Louder Than Words). छोटे छोटे बच्चे देखते हैं कि टीचर मीलों का सफर तय करके रोज़ स्कूल (Primary School) आती जाती है और इसके बाद बचे खुचे समय में अपनी पढ़ाई करके एक प्रतिष्ठित अफसर बनती है, तो यह वाकया बच्चों के मन पर अमिट छाप छोड़कर लाइफटाइम सबक बन सकता है.

विज्ञापन
First published:
विज्ञापन

विज्ञापन