Home / Photo Gallery / knowledge /story of jeans how it became fashion from sailors trousers

जींस की रोचक कहानी, मजदूर और नाविक पहनते थे पहले, फिर कैसे हो गई फैशन में हिट

अगर किसी परिधान का जादू पूरी दुनिया न जाने कितने ही दशकों से सिर चढ़कर बोल रहा है तो वह जींस है. ये हर किसी की पसंद है और हर जगह है. जींस कभी मजदूरों और नाविकों की पोशाक थी, क्योंकि ये मजबूत कपड़े की बनती थी फिर कैसे ये फैशन बन गई.. क्या है इसकी कहानी

01

जींस एक ऐसा बेसिक आउटफिट है जो कि हर ऑकेजन के लिए परफेक्ट माना जाता है. महिला हो या पुरुष हर किसी के लिए ये एक बेहतरीन विकल्प है. पर क्या आप जानते हैं कि जिस जीस को इतने मजे से पहनते हैं, उसे फैशन का हिस्सा बनने के लिए कितनी मशक्कत करना पड़ी थी. आइए जानते हैं जींस की कहानी.

02

जींस दशकों पुराना नहीं बल्कि सदियों पुरानी है. जिस जींस को फैशन का बहुत बड़ा पार्ट समझा जाता है वो किसी ज़माने में मजदूरों का पहनावा मानी जाती थी. जींस का अविष्कार 19 वीं सदी में फ्रांस के शहर NIMES में हुआ था, जिस कपडे़ से जीन्स बनी है उसे फ्रेंच में “Serge” कहते हैं और इसे नाम दिया गया “Serge de Nimes”. फिर लोगों ने इसको शॉर्ट कर दिया और ये हो गई Denims (डेनिम्स).धीरे धीरे डेनिम्स पूरे यूरोप में पॉपुलर हो गई. इसे सबसे ज्यादा सेलर्स (नाविकों) ने पसंद किया. लोगों ने इन सेलर्स को सम्मान देने के लिए एक निकनेम दिया- जो था जीन्स.

03

1850 आते-आते एक जर्मन व्यापारी लेवी स्ट्रॉस ने कैलिफोर्निया में जींस पर अपना नाम छापकर बेचना शुरू किया. वहां एक टेलर (जेकब डेविस) उसका सबसे पहला कस्टमर बना. उसने भी लोगों को जींस बेचना शुरू कर दिया. वहां कोयले की खान में काम करने वाले मजदूर इसे ज्यादा खरीदते, क्योंकि इसका कपड़ा बाकी फैब्रिक से थोड़ा मोटा था, जो उनके लिए काफी आरामदायक था.

04

एक दिन डेविस ने स्ट्रॉस से कहा कि क्यों न हम दोनों मिलकर इसका एक बड़ा बिजनस शुरू करें. स्ट्रॉस को डेविस का प्रपोजल काफी पसंद आया. इस तरह उन्होंने जींस के लिए यूएस पेटेंट ले लिया और फिर जींस का बड़े पैमाने पर जींस बनाना शुरू कर दिया.

05

वैसे तो बहुत से रंगों मे डेनिम रंगी जाती है पर पहली जीन्स नीले रंग में ही बनाई गई थी. शुरू में जींस मजदूरों और मेहनती लोगों द्वारा ही पहनी जाती थी. उनके कपडे जल्दी गंदे हो जाते थे, मैले होने पर भी जींस गंदी न दिखे इसलिए इनका रंग नीला रखा गया.

06

पुरुषों के लिए बनी जींस में जिप फ्रंट में नीचे की तरफ लगाई जाती थी, वहीं महिलाओं के लिए बनी जींस में इसे साइड में लगाया जाता था.

07

जिंस को पहनने को बाद बूट्स पहनने में दिक्कत होती थी इसी के तहत अमेरिकन नेवी में बूट कट जींस को वर्कर्स की यूनिफॉर्म बनाया गया.

08

1950 में जेम्स डीन ने एक हॉलीवुड फिल्म ‘रेबल विदाउट अ कॉज’ बनाई, जिसमें उन्होंने पहली बार जींस को बतौर फैशन यूज किया. इस फिल्म को देखने के बाद अमेरिका के टीन एजर्स और यूथ में जींस का ट्रेंड छा गया.

09

इसकी लोकप्रियता कम करने के लिए अमेरिका में रेस्तरां, थियेटर्स और स्कूल में जींस पहनकर जाने पर बैन भी लगा दिया गया, फिर भी जींस का फैशन यूथ के सिर पर ऐसा चढ़ा कि फिर उतरा ही नहीं.

10

धीरे-धीरे जींस की पॉपुलेरिटी बहुत बढ़ने लगी और 1970 में इसे फैशन के तौर पर स्वीकार कर लिया गया. तब से अब तक जींस का क्रेज हर तबके के लोगों के सिर पर चढ़कर बोल रहा है.

  • 10

    जींस की रोचक कहानी, मजदूर और नाविक पहनते थे पहले, फिर कैसे हो गई फैशन में हिट

    जींस एक ऐसा बेसिक आउटफिट है जो कि हर ऑकेजन के लिए परफेक्ट माना जाता है. महिला हो या पुरुष हर किसी के लिए ये एक बेहतरीन विकल्प है. पर क्या आप जानते हैं कि जिस जीस को इतने मजे से पहनते हैं, उसे फैशन का हिस्सा बनने के लिए कितनी मशक्कत करना पड़ी थी. आइए जानते हैं जींस की कहानी.

    MORE
    GALLERIES