Sufi Ishq Shayari: हम से जुदा नहीं है ख़ुदा और ख़ुदा से हम, सूफी इश्क पर शायरी का लें लुत्फ़

Sufi Ishq Shayari: इश्क में मर मिटने का जज्बा, इशक़-ए-हक़ीक़ी से ही आया है. सूफ़ीवाद ने उर्दू शायरी को अलग ही आयाम दिया है और मोहब्बत के रंगों को सूफ़ीयाना-इश्क़ के संदर्भों में ढाला है.

First published: