Akbar Allahabadi Shayari: 'इश्क़ नाज़ुक-मिज़ाज है...' पढ़ें हास्य-व्यंग्य के उर्दू शायर अकबर इलाहाबादी के शेर

Akbar Allahabadi Classic Shayari: अकबर इलाहाबादी (Akbar Allahabadi) का जन्म 16 नवंबर 1846 को उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के इलाहाबाद (प्रयागराज) में हुआ था. उनका मूल नाम सय्यद अकबर हुसैन रिज़वी था. 'अकबर' हिन्दुस्तानी तहज़ीब के बड़े मशहूर शायर (Famous shayar) थे. कहा जाता है कि उनके कलामों में उत्तरी भारत में रहने वाले लोगों के मानसिक व नैतिक मूल्यों और जिंदगी से जुड़ें कई सुराग़ मिलते हैं. ये भी माना जाता है कि उनकी शायरी ज़माने और ज़िंदगी का बिंब हैं. आपको ये भी बता दें कि वह उर्दू में हास्य-व्यंग्य के सबसे बड़े शायर होने के साथ इलाहाबाद में सेशन जज भी थे.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: