चीनी यात्री ह्वेन त्सांग ने भारत यात्रा के बाद इस वजह से किया था अंगूर का ज़िक्र, पढ़ें और भी दिलचस्प बातें

अंगूर वात-पित्त को तो रोकता ही है, साथ ही खांसी और मुंह को सूखने से बचाता है. यह मधुर, स्निग्ध व शीतल होता है. कहा जाता है कि अंगूर के गुच्छे देखने से मन को प्रसन्नता होती है और इसका खट्टा-मीठा स्वाद मनोदशा को सुधारता है. आहार विशेषज्ञ कहते हैं कि अंगूर का सेवन तनाव व अवसाद को भी कम करता है

विज्ञापन
First published: