हिंदी दिवस 2020: 'कोशिश करने वालों की हार नहीं होती', कविताएं जो जन-जन की बनीं आवाज़

हिंदी दिवस 2020: हिंदी भाषा (Hindi Language) देश के माथे की बिंदिया की तरह सदा से ही जगमगाती रही है. यह भारत के एक बड़े वर्ग द्वारा बोली जाती है, वहीं साहित्‍य के क्षेत्र में भी हिंदी का योगदान कम नहीं है. कितने ही कवियों ने अपने शब्‍दों से हिंदी के शृंगार को बढ़ाया. कहीं इसमें प्रेम, विरह जैसी भावनाएं व्‍यक्‍त हुईं, तो आजादी के आंदोलन में भी हिंदी का योगदान कम नहीं रहा.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published:
विज्ञापन

विज्ञापन