Nasir Kazmi Birthday Special: 'दिल धड़कने का सबब याद आया...' पढ़ें नासिर काज़मी के क्लासिक शेर

Nasir Kazmi Shayari In Hindi: नासिर काज़मी का जन्म 8 दिसंबर 1923 को अंबाला (Ambala) में हुआ था. 'नासिर' का पूरा नाम नासिर रज़ा काज़मी था. हामिदी काश्मीरी के मुताबिक "नासिर काज़मी के कलाम में जहां उनके दुखों की दास्तान, ज़िंदगी की यादें नई और पुरानी बस्तीयों की रौनकें, एक बस्ती से बिछड़ने का ग़म और दूसरी बस्ती बसाने की हसरत-ए-तामीर मिलती है, वहीं वो अपने युग और उसमें ज़िंदगी बसर करने के तक़ाज़ों से भी ग़ाफ़िल नहीं रहते. उनके कलाम में उनका युग बोलता हुआ दिखाई देता है.'' उनके जन्म दिवस (Birthday) के मौके पर पढ़ें उनकी लिखी शायरियां (Shayari)

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: