औषधि और मसाला दोनों ही हैं तुलसी, अथर्ववेद में भी है ज़िक्र, पढ़ें इस पौधे से जुड़ी खास बातें

गुणों से भरपूर तुलसी की पत्तियों के रस को बुखार, ब्रोकाइटिस, खांसी, पाचन संबंधी शिकायतों में देने से राहत मिलती है. कान के दर्द में भी तुलसी के तेल का उपयोग किया जाता है. आयुर्वेद में मधुमेह, मोटापा और तंत्रिका विकार के इलाज में इसका उपयोग किया जाता है.

विज्ञापन
First published: