Intiqam Shayari: 'ख़ुद अपने आप से लेना था इंतिक़ाम मुझे...' पढ़ें प्रतिशोध की भावना पर लिखे गए शेर

(इंतिक़ाम पर शेर) Intiqam Shayari: इंतिक़ाम का अर्थ प्रतिशोध होता है. कई बार कई लोगों की जिंदगी में ऐसे हादसे पेश आते हैं, जो इंसान को या तो बिल्कुल तोड़ देते हैं या उनके अंदर प्रतिशोध की आग भड़काने का काम करती है. इसी भावना के ऊपर कई शायरों ने शेर लिखे हैं. पढ़ें, कुछ चुनिंदा शेर (Sher)

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: