आन, बान और शान के प्रतीक वीर शिरोमणी महाराणा प्रताप

मेवाड़ के गौरव की रक्षा के लिए प्राणों को न्यौछावर करने के लिए सदैव तैयार रहने वाले प्रतापी महाराणा प्रताप आज भी देश के नौजवानों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत बने हुए हैं. इसकी बानगी देखने को मिली शनिवार को महाराणा प्रताप की 478वीं जयंती पर. आन, बान और शान के प्रतीक वीर शिरोमणी प्रताप को प्रदेशभर में लोगों ने पुष्पांजलि अर्पित कर उनके आदर्शों को अपनाने का संकल्प लिया.

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
First published:
विज्ञापन

विज्ञापन