बगैर फाइल वाले मालवेयर से लेकर कम जागरूकता तक, क्या बन सकता है आपकी सिक्योरिटी के लिए खतरा

नई दिल्ली. साल 2022 डिजिलट दुनिया के लिए काफी अहम रहा. कुछ ही दिन पहले एम्स के डाटा में सेंध लगी. इससे पहले वॉट्सऐप से करीब 50 करोड़ का डाटा चोरी किया गया और फिर लीक कर दिया गया. पेगासस पर मचा बवाल कौन भूल सकता है. पिछले साल के पेगासस विवाद ने इस साल भी सरकार का पीछा नहीं छोड़ा और सुप्रीम कोर्ट में इसे लेकर सुनवाई जारी रही. ऐसे ही कई स्पाईवेयर/मालवेयर ने टेक कंपनियों और टेक इस्तेमाल करने वाली आम जनता की नाक में दम कर दिया है. जैसे-जैसे तकनीक उन्नत हो रही है साइबर दुनिया सुविधाजनक होने के साथ-साथ उतनी ही असुरक्षित भी होती जा रही है. अगले साल भी कुछ ऐसे खतरे हैं जिन पर नजर रखने की जरूरत है.

विज्ञापन
First Published: