सुभाष चंद्र बोस जयंती विशेष: वाराणसी में देश का पहला मंदिर जहां राष्ट्रदेवता के रूप में स्थापित हैं नेताजी, देखिए तस्वीरें

वाराणसी (Varanasi): सुभाष चंद्र बोस मंदिर की पुजारी 14 वर्षीय एक दलित लड़की है, व्यवस्थापक मुस्लिम है तो मंदिर को बनवाया हिंदू ने है. जिसके कारण इस मंदिर में सभी जाति और धर्म के लोग आते हैं. (रवि पांडेय की रिपोर्ट)

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: