PHOTOS: वैज्ञानिकों का दावा कि दोबारा बस सकता है जोशीमठ, अगर ऐसे की जाए तैयारी

PHOTOS: भले ही जोशीमठ में आज भू धंसाव के चलते स्थिति खराब हो, लेकिन ऐसा नहीं है कि दोबारा जोशीमठ नहीं बसाया जा सकता, केदारनाथ की ही तरह जोशीमठ में भी पुनर्निर्माण काम संभव है. वैज्ञानिक मानते हैं कि सॉइल टेस्ट यानी जोशीमठ की मिट्टी के सैंपल चेक करके वहां की बसावट पर रिसर्च की जा सकती है, और इस पर वैज्ञानिक रिसर्च करने लगे हैं. (फोटो: भारती सकलानी)

First Published: