हाड़ तोड़ मेहनत कर रही हैं पहाड़ की महिलाएं, कमा रही हैं पैसा और सम्मान - See Photos

चंपावत. देशभर में बोरोजगारी का रोना है, लेकिन पहाड़ों में जिन महिलाओं ने कभी घर से बाहर कदम नहीं रखे, उन्होंने अपने हुनर से अपने लिए स्वरोजगार के अवसर ढूंढ़ निकाले. जी हां, चंपावत की महिलाओं ने समूह बनाकर अपना व्यवसाय शुरू कर दिया है और सरस मार्केट में उनके उत्पादों की ठीक-ठाक बिक्री भी हो रही. समूह से महिलाओं को जोड़ने में जिले की एपीडी अधिकारी विमी जोशी की बड़ी भूमिका है. जाहिर है उनकी मेहनत रंग आई और आज चंपावत क्षेत्र की कई हजारों महिलाएं समूह से जुड़कर घर का खर्च उठा रही हैं.

विज्ञापन
First published: