Haridwar: हरकी पैड़ी पर गंगाजल पीने लायक नहीं, पीसीबी की रिपोर्ट में हुए कई चौंकाने खुलासे

उत्तराखंड पर्यावरण संरक्षण एवं प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने चारधाम यात्रा शुरू होने से पहले हरिद्वार की हरकी पैड़ी समेत 12 जगह गंगाजल की सैंपलिंग की थी. इस दौरान हरिद्वार में गंगा का जल बी श्रेणी की कैटेगरी में मिला है, जो कि पीने योग्य कम है, लेकिन आचमन के लायक है.

विज्ञापन
विज्ञापन
First published: