अपना शहर चुनें

  • No filtered items

राज्य

रूसी कथाकार आंतोन चेखव की कहानी 'गिरगिट'

  • May 21, 2022, 11:46 am

आंतोन चेखव पेशे से चिकित्सक रहे. चिकित्सा के पेशे में उन्होंने कई रोग बीमारियां देखी होंगी, लेकिन बतौर मनुष्य जो मर्ज इंसानों में उन्होंने देखे, उन्हीं का इशारा उन्होंने इस लोकप्रिय कहानी 'गिरगिट' में किया है.



मस्कार दोस्तो, न्यूज़ 18 हिन्दी के आज के पॉडकास्ट में आपका स्वागत है. मैं पूजा प्रसाद आज आपके सम्मुख एक बार फिर हाज़िर हूं एक नए रचनाकार और एक नई कहानी के साथ. दोस्तो, साहित्य एक ऐसा पड़ाव है दोस्तो जहां देश और दुनिया एक ग्लोबल विलेज की तरह लगने लगती है. देशों की सीमाएं और वक्त की हदें मानवीय संवेदनाओं के आगे बौनी साबित होती हैं. कभी रूस की कोई बात भारत में भी उसी रूप में दिखने लग जाती है और कभी सदियों पहले के पैटर्न वर्तमान में दोहराए जाते प्रतीत होते हैं. आपने अज्ञेय की यह कविता जरूर सुनी होगी-

साँप !
तुम सभ्य तो हुए नहीं
नगर में बसना
भी तुम्हें नहीं आया।
एक बात पूछूँ–(उत्तर दोगे?)
तब कैसे सीखा डँसना–
विष कहाँ पाया?

अज्ञेय ने सांप को लेकर जो व्यंग्य किया, उनसे सालों पहले 1884 में रूसी कथाकार चेखव ने भी कुछ इसी तरह का व्यंग्य किया था. आज जिस कहानी का पाठ मैं करने जा रही हूं, उसका नाम है गिरगिट. इसे लिखा है आंतोन चेखव ने. वैसे भारतीय परिवेश में भी हम देख सकते हैं कि गिरगिट कैसे रंग बदलता है… शीर्षक में गिरगिट है और कहानी में है एक कुत्ता और इंसान की नित नए रंग दिखाती फितरत! चेखव पेशे से चिकित्सक रहे. चिकित्सा के पेशे में उन्होंने कई रोग बीमारियां देखी होंगी, लेकिन बतौर मनुष्य जो मर्ज इंसानों में उन्होंने देखे, उन्हीं का इशारा उन्होंने इस लोकप्रिय कहानी में किया है. आइए सुनें चेखव की कहानी गिरगिट.

सुनें प्रेमचंद की कहानी ‘त्रिया चरित्र’ – भाग एक

सुनें प्रेमचंद की कहानी ‘त्रिया चरित्र’ का दूसरा और आखिरी भाग

पुलिस का दारोगा ओचुमेलोव नया ओवरकोट पहने, हाथ में एक बण्डल थामे बाजार के चौक से गुज़र रहा है। लाल बालों वाला एक सिपाही हाथ में टोकरी लिये उसके पीछे-पीछे चल रहा है। टोकरी जब्त की गयी झड़बेरियों से ऊपर तक भरी हुई है। चारों ओर ख़ामोशी…चौक में एक भी आदमी नहीं…दुकानों व शराबखानों के भूखे जबड़ों की तरह खुले हुए दरवाज़े ईश्वर की सृष्टि को उदासी भरी निगाहों से ताक रहे हैं। यहाँ तक कि कोई भिखारी भी आसपास दिखायी नहीं देता है।

“अच्छा! तो तू काटेगा? शैतान कहीं का!” ओचुमेलोव के कानों में सहसा यह आवाज़ आती है। “पकड़ लो, छोकरो! जाने न पाये! अब तो काटना मना है! पकड़ लो! आ…आह!”

कुत्ते के किकियाने की आवाज़ सुनायी देती है। ओचुमेलोव मुड़ कर देखता है कि व्यापारी पिचूगिन की लकड़ी की टाल में से एक कुत्ता तीन टाँगों से भागता हुआ चला आ रहा है। एक आदमी उसक पीछा कर रहा है – बदन पर छीट की कलफदार कमीज, ऊपर वास्कट और वास्कट के बटन नदारद। वह कुत्ते के पीछे लपकता है और उसे पकड़ने की कोशिश में गिरते-गिरते भी कुत्ते की पिछली टाँग पकड़ लेता है। कुत्ते की कीं-कीं और वही चीख़ – “जाने न पाये!” दोबारा सुनायी देती है। ऊँघते हुए लोग गरदनें दुकनों से बाहर निकल कर देखने लगते हैं, और देखते-देखते एक भीड़ टाल के पास जमा हो जाती है मानो ज़मीन फाड़ कर निकल आयी हो।

“हुजूर! मालूम पड़ता है कि कुछ झगड़ा-फसाद है!” सिपाही कहता है….

पूरी कहानी सुनने के लिए यहां क्लिक करें.

आंतोन चेखव की श्रेष्ठ कहानियां, प्रभात प्रकाशन (साभार)

टैग्ज़ :

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज