अपना शहर चुनें

  • No filtered items

राज्य

Health Podcast: समझिए, बीमारियों से बचाने और बीमारियां देने वाली फिजिकल एक्‍सरसाइज

  • January 24, 2022, 10:15 am

Sehat Ki Baat: हाइपोथर्मिया, हाइपरथर्मिया, फ्रासबाइट और हाइपोग्‍लाइ‍सीमिया जैसी बीमारियां गलत तरीके से फिजकल वर्कआउट करने की वजह से हो सकती है. इसके अलावा, बहुत सी ऐसी बीमारियां हैं जो गलत तरीके से फिजिकल वर्कआउट करने की वजह से हो सकती है. सेहत की बात में आज हम बात करेंगे बिमारियों से बचाने और बीमारियां देने वाली फिजिकल एक्‍सरसाइज के बारे में और आज इस बातचीत में हमारे साथ होंगी इंद्रप्रस्‍थ अपोलो हॉस्पिटल में फिजियोलॉजी डिपार्टमेंट की हेड डॉ. सीमा ग्रोवर. 



बीमारियां देने वाली और बीमारियों से बचाने वाली फिजिकल वर्कआउट की बात करें, उससे पहले उनकी बात करें जो रोज रात में खुद से प्रॉमिस करते हैं कि कल सुबह से पक्‍का वर्कआउट शुरू करेंगे, लेकिन सुबह होते-होते उनका खुद से किया वादा दम तोड़ने लगता है. डॉ. सीमा ग्रोवर से ऐसे लोगों के लिए हमारा पहला सवाल यही था कि सर्दियों में फिजिकल वर्कआउट करना कितना जरूरी है. साथ ही, सर्दियों के मौसम में हमें कौन सी फिजिकल एक्‍सरसाइज करनी चाहिए, कितनी करनी चाहिए और किनको अवाइड करना चाहिए.

– फिजिकल एक्‍सरसाइज के दौरान कैसे हों कपड़े: देश के बड़ी आबादी इस बात से अनभिज्ञ है कि फिजिकल एक्‍सरसाइज के दौरान हमें किस तरह के कपड़े पहनने चाहिए. गलत कपड़ों का चुनाव की वजह से हमें हाइपोथर्मियां जैसी बीमारी का सामना करना पड़ सकता है. डॉ. सीमा से हमने जाना कि फिजिकल वर्कआउट के दौरान हमें किस तरह के कपड़े पहनने चाहिए. सर्दियों में गर्म कपड़े पहनकर फिजिकल वर्कआउट करने पर हमें किस तरह का खामियाजा भुगतना पड़ सकता है. इसके अलावा, गलत तरीके से की गई एक्‍सरसाइज या वर्क आउट हमें कितना बीमार बना सकता है.

– सर्दियों में एग्रेसिव होती बीमारियां: हम सब जानते हैं कि सर्दियों में ब्‍लड प्रेशन या कहें तो हार्ट से जुड़ी बीमारियां एग्रेसिव हो जाती हैं. कई लोगों को इस बात का पता नहीं होता है कि उनका हार्ट अब कंप्रोमाइज हो चुका है. इस स्थिति को देखते हुए हमें एक्‍सरसाइज करते वक्‍त ि‍कन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए. साथ ही, क्‍या कोई ऐसे लक्षण हैं, जो बताते हैं कि अब आपको एहतियात बरतते हुए अपना फिजिकल चेकअप करा लेना चाहिए. इसके अलावा, देखा देखी में एक्‍सरसाइज करना हमें किस तरह से नुकसान पहुंचा सकता है.

– इंद्रप्रस्‍थ अपोलो हॉस्पिटल में फिजियोथेरेपी डिपार्टमेंट की हेड डॉ. सीमा ग्रोवर से फिजिकल वर्कआउट से जुड़े इस तरीके के तमाम सवालों का जवाब जानने के लिए सुने आज का खास Health Podcast… समझिए, बिमारियों से बचाने और बीमारियां देने वाली फिजिकल एक्‍सरसाइज

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज