इंटरनेशनल योगा डे 2021: कोरोना से जंग, योग के संग, योग प्रशिक्षिका सविता यादव से एक मुलाकात

  • June 20, 2021, 3:59 pm

International Yoga Day 2021: जब शारीरिक फिटनेस बनाए रखने वाले जिम, पार्क और फिजिकल मूवमेंट बंद हो गए हों, ऐसे में योग हमारा बेहतर साथी हो सकता है. हम आज बात करने जा रहे हैं योग प्रशिक्षिका सविता यादव (Savita Yadav) से.



नमस्कार साथियो, न्यूज18 हिंदी के इस विशेष पॉडकास्ट में मैं पूजा प्रसाद आपका स्वागत करती हूं. मैं जानती हूं कि आज जिनसे आपको मिलवाने जा रही हूं और आपके बिहाफ में उनसे जो बात करने जा रही हूं, वे बातें लंबी खिचेंगी. इसलिए हर तरह की औपचारिकताओं से बचते हुए जल्दी से आपको सब्जेक्ट बता देती हूं कि आज हम बात करेंगे इम्यूनिटी की, शारीरिक फिटनेस की. यह सब्जेक्ट इसलिए भी चुना कि कोरोना महामारी के इस मुश्किल समय में घर में बैठे-बैठे हम सभी कई तरह की परेशानियों का सामना करने लगे हैं. इसमें हमारी हेल्थ बड़ा मुद्दा है. जब शारीरिक फिटनेस बनाए रखने वाले जिम, पार्क और फिजिकल मूवमेंट बंद हो गए हों तो ऐसे में बहुत हद तक योग हमारा सबसे बेहतर साथी हो सकता है और इसीलिए हम आज बात करने जा रहे हैं योग प्रशिक्षिका सविता यादव से. ये कमाल की योग टीचर हैं और इस मुद्दे पर इनके पास इफरात जानकारियां हैं. तो बगैर वक्त गंवाए मैं उनका स्वागत करती हूं और दनादन सवाल दागती हूं.


इस पॉडकास्ट में आपको मिलेंगे इन सवालों के जवाब-


1-कोरोना महामारी के दौरान इम्यूनिटी की बात बार-बार उठी है और इसे बढ़ाने के लिए लोग अक्सर एक-दूसरे को काढ़ा पीने जैसी कई सलाह दे जाते हैं. मैं अपने श्रोताओं के लिए यह जानना चाहती हूं कि क्या महज खानपान से ही इम्यूनिटी बढ़ाई जा सकती है या योग से भी हम अपनी इम्यूनिटी बढ़ा सकते हैं?


2- क्या आहार के रूप में हम जो ट्रेडिशनल फूड के आदी हैं उसमें कुछ चेंज लाना होगा?


3- जिनकी रुचि योग में नहीं, वे क्या करें?


4- कोरोना संक्रमण से उबरने के बाद लोग बेहद कमजोरी की शिकायत करते हैं, तो हमें यह बताएं कि पोस्ट कोरोना आराम और खान-पान के अलावा क्या योग भी इस कमजोरी को दूर करने में मददगार होता है?


5- जो लोग कोरोना महामारी के इस दौर में लगातार घर में ही हैं, जैसे हमारे बुजुर्ग. अक्सर ये लोग परेशान हो जाते हैं. कोई अपने हाथ-पांव की जकड़न को लेकर परेशान है तो कोई अपने टमी फैट को लेकर. ऐसे लोगों के लिए आप योग में क्या गुंजाइश पाती हैं?


6- योग करने के समय को लेकर अक्सर कन्फ्यूजन रहता है. आप बताएं कि योग करने के लिए कौन-सा समय सबसे बेहतर होता है?


7- एक सवाल यह भी कि योग करने से पहले क्या हमें खाली पेट रहना चाहिए? और योग करने के तुरंत बाद कुछ खाना उचित रहता है?


8- शवासन करना तो सबसे आसान लगता है. इस बारे में आप क्या कहना चाहेंगी.


9- बिल्कुल ठीक कहा आपने. अब वक्त को देखते हुए मैं चाहूंगी कि हमारे श्रोताओं के लिए कोई संदेश...जो आप देना चाहें.


बहुत बहुत शुक्रिया सविता जी, आपने जो जरूरी जानकारी दी है, हमें पूरा विश्वास है इसका हमारे दर्शक, श्रोता ज्‍यादा से ज्यादा लाभ उठा सकेंगे. तो दोस्तो, फिर मिलेंगे एक अन्य पॉडकास्ट के साथ जल्द ही, नमस्कार.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज