podcast : देशभर में कोरोना संक्रमण के मामले घटे, कई बंदिशों के बीच दिल्ली हुई अनलॉक

  • June 14, 2021, 10:35 am

साथियो, देशभर में मॉनसून दस्तक दे चुका है. बारिश की फुहारों ने तपिश कम कर दी है. आज के पॉडकास्ट में देशभर में मॉनसून की स्थित की खबर लेकर आए हैं. इसके अलावा, चिराग पासवान की अगुवाई वाली लोक जनशक्ति पार्टी में चल रही उठापटक से भी रूबरू कराएंगे आपको. दिल्ली में अनलॉक की खबर भी होगी आज के पॉडकास्ट में, साथ ही मध्य प्रदेश में कोरोना लॉकडाउन के उल्लघंन पर लगाए गए जुर्माने की भी खबर होगी. पॉडकास्ट के अंत में आपको बताएंगे देशभर में कोरोना का हाल. फिलहाल मॉनसून की खबरों के साथ शुरू करते हैं आज का पॉडकास्ट.



नई दिल्ली. आप सुनना शुरू कर चुके हैं न्यूज18 हिंदी का पॉडकास्ट. स्वीकार करें मेरा नमस्कार. साथियो, देशभर में मॉनसून दस्तक दे चुका है. बारिश की फुहारों ने तपिश कम कर दी है. आज के पॉडकास्ट में देशभर में मॉनसून की स्थित की खबर लेकर आए हैं. इसके अलावा, चिराग पासवान की अगुवाई वाली लोक जनशक्ति पार्टी में चल रही उठापटक से भी रूबरू कराएंगे आपको. दिल्ली में अनलॉक की खबर भी होगी आज के पॉडकास्ट में, साथ ही मध्य प्रदेश में कोरोना लॉकडाउन के उल्लघंन पर लगाए गए जुर्माने की भी खबर होगी. पॉडकास्ट के अंत में आपको बताएंगे देशभर में कोरोना का हाल. फिलहाल मॉनसून की खबरों के साथ शुरू करते हैं आज का पॉडकास्ट.

उत्तर प्रदेश में मॉनसून प्रवेश कर चुका है. मौसम विभाग ने इसकी आधिकारिक घोषणा करते हुए कहा कि इस बार एक हफ्ते पहले ही 13 जून को मॉनसून की सूबे में आमद हो गई है. बंगाल की खाड़ी से चली मॉनसूनी हवा ने पूर्वांचल से लेकर रूहेलखंड तक के जिलों में रिमझिम बारिश का सिलसिला शुरू कर दिया है. बंगाल, ओडिशा, झारखंड और बिहार की सीमा को पार करने के बाद पूर्वांचल के रास्ते प्रदेश में मॉनसून का आगमन हुआ है. लखनऊ स्थित मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक, मॉनसून की चाल सामान्य है और इसकी लाइन बरेली से गुजर रही है. पूर्वांचल से लेकर तराई और रूहेलखंड तक के जिलों में रिमझिम बारिश का दौर जारी रहेगा. अगले चार से पांच दिनों तक मौसम का ऐसा ही मिजाज बना रहेगा. गर्मी से राहत रहेगी और लोग बरसात का आनंद उठा पाएंगे.

देश भर में मॉनसून की स्थिति के बारे में भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि मध्‍य प्रदेश के कुछ हिस्‍सों, पूरे छत्‍तीसगढ़, ओडिशा, पश्चिम बंगाल, झारखंड, बिहार, उत्‍तर प्रदेश के कुछ हिस्‍सों तक मॉनसून पहुंच गया है. इनके अलावा उत्‍तराखंड, हिमाचल प्रदेश, जम्‍मू कश्‍मीर, लद्दाख, गिलगित बाल्टिस्‍तान, हरियाणा, चंडीगढ़ और पंजाब के कुछ हिस्‍सों में भी मॉनसून पहुंच चुका है. इन राज्‍यों के अधिकांश हिस्‍से में यह मॉनसून 14 जून यानी आज पहुंच जाएगा. इससे इन इलाकों में तेज बारिश और हवा चलने का अनुमान है.

दक्षिण-पश्चिम मॉनसून के रविवार को आधिकारिक तौर पर हिमाचल प्रदेश पहुंचने के साथ ही राज्य के कई इलाकों में बारिश हुई है. सोमवार को भी हिमाचल प्रदेश के कई हिस्सों में हल्की से मध्यम दर्जे की बारिश होने का अनुमान है जबकि राज्य के कुछ निचले और मध्य पहाड़ी इलाकों में भारी वर्षा हो सकती है.

राजस्थान के बीकानेर, जयपुर, भरतपुर, जोधपुर, उदयपुर और कोटा संभागों में अगले तीन-चार दिनों में आधी के साथ बारिश होने और अधिकांश हिस्से में तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट का अनुमान है. 15 जून को एक बार फिर पश्चिमी राजस्थान की जोधपुर और बीकानेर संभाग में आंधी बारिश की गतिविधियों में बढ़ोतरी होगी. इस दौरान बिजली की तेज गरज के साथ हवा की गति 40 से 60 किलोमीटर प्रतिघंटा तक हो सकती है. अजमेर, जयपुर, भरतपुर कोटा संभाग के जिलों में भी 15-16 जून को गरज के साथ तेज बारिश होने की प्रबल संभावना है. उदयपुर व कोटा संभाग में भी 15-16-17 जून को गरज के साथ बारिश का अनुमान है.

मौसम विभाग के अनुसार पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में रविवार सुबह बारिश हुई है. इसके साथ ही अगले दो दिन क्षेत्र में और बारिश होने का अनुमान है. मौसम विभाग ने पंजाब और हरियाणा के अधिकतर हिस्सों में 14 जून और 15 जून को कहीं मध्यम और कहीं गरज के साथ छींटे पड़ने का पूर्वानुमान जताया है. इसके साथ ही उत्‍तर प्रदेश, मध्‍य प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, छत्‍तीसगढ़ और महाराष्‍ट्र के कई हिस्‍सों में भी बारिश होने की संभावना है.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे है. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं.

देश की राष्‍ट्रीय राजधानी दिल्‍ली में आज सुबह 5 बजे से लॉकडाउन खत्म हो गया है. इसके साथ दिल्‍ली में बाजार, मॉल और मार्केट कॉम्प्लेक्स में सारी दुकानें सुबह 10 बजे से शाम 8 बजे तक खुलेंगी. वहीं, रेस्टोरेंट्स और निजी दफ्तरों में भी 50 फीसदी क्षमता के साथ रौनक लौटेगी. जबकि दिल्‍ली मेट्रो भी अपनी 50 फीसदी क्षमता के साथ रफ्तार पकड़ेगी. आज से 50 फीसदी बैठने की क्षमता के साथ रेस्टोरेंट्स खोलने की अनुमति है. हालांकि दिल्‍ली में अभी भी कुछ गतिविधियां प्रतिबंधित रहेंगी. सीएम अरविंद केजरीवाल ने साप्ताहिक बाजार को खोलने की अनुमति दी है, लेकिन एक दिन में एक जोन में एक ही साप्ताहिक बाजार ही खुलेगा. शादियां चाहे कोर्ट में करें, मंदिर में करें या घर में, इस अवसर पर 20 से ज्यादा लोग नहीं जुट सकते. आज से ऑटो-कैब में अधिकतम 2 यात्रियों को साथ बैठने की इजाजत दी गई है. लेकिन राजधानी दिल्ली के सभी स्‍कूल, कॉलेज और शिक्षण संस्‍थान बंद रहेंगे. किसी तरह के सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक और धार्मिक आयोजनों की अनुमति नहीं होगी. स्विमिंग पूल, स्टेडियम, स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स, बैंक्वेट हॉल और ऑडिटोरियम पूरी तरह से बंद रहेंगे. अभी सैलून, स्पा और जिम के साथ पब्लिक पार्क और गार्डन भी पूरी तरह से बंद रहेंगे. सिनेमा हॉल, एंटरटेनमेंट पार्क और थियेटर पर भी अभी पाबंदिया जारी रहेंगी.

बिहार में सियासी उथल-पुथल लगातार जारी है. जीतनराम मांझी की तेजप्रताप यादव से मुलाकात का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि लोक जनशक्ति पार्टी में टूट की खबर ने सभी को चौंका दिया. चिराग पासवान की अगुआई वाली एलजेपी के 6 में से 5 सांसदों ने अलग होने का मन बना लिया. जानकारी के मुताबिक, लोक जनशक्ति पार्टी के 5 सांसदों ने लोकसभा अध्यक्ष को पत्र लिखकर सदन में अलग गुट के रूप में मान्यता देने का आग्रह किया है. लोजपा के जिन 5 सांसदों ने बगावत की है, उनका नेतृत्व रामविलास पासवान के छोटे भाई और हाजीपुर के सांसद पशुपतिनाथ पारस कर रहे हैं. लोजपा के संस्‍थापक रामविलास पासवान की मौत के एक साल के भीतर ही पार्टी दो खेमों में बंट गई है. चिराग पासवान से नाराज होकर जिन सांसदों ने बगावत की है और पारस को अपना नेता माना है, उनमें चिराग के चचेरे भाई प्रिंस कुमार, नवादा सांसद चंदन कुमार, वैशाली सांसद वीणा देवी और खगड़िया के सासंद महबूब अली कैसर समेत उनके चाचा पशुपति कुमार पारस भी हैं. इन पांचों के जेडीयू में शामिल होने की भी चर्चा है, ऐसे में चिराग पासवान लोकसभा में अकेले पड़ जाएंगे.

मध्य प्रदेश की कटनी में भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिलाध्यक्ष के जन्मदिन पर कोरोना गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं. सड़क पर मंच सजाकर जिलाध्यक्ष की बर्थडे पार्टी मनाई गई. मंच पर केक काटा गया. इस मौके पर काफी भीड़ मौजूद थी. चेहरे पर मास्क तो दूर सोशल डिस्टेंसिंग भी नहीं थी. सभी ने जिलाध्यक्ष से गले मिलकर उन्हें बधाई दी और केक खिलाया. कटनी के भाजयुमो जिलाध्यक्ष मृदुल द्विवेदी के जन्मदिन के मौके पर कटाए घाट मोड़ स्थित मंदिर के पास मंच सजाया गया था. प्रशासन ने कोरोना गाइडलाइन का पालन नहीं करने पर जिलाध्यक्ष पर 10 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है.

देश में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर में काबू में नजर आ रही है. पिछले एक सप्ताह में संक्रमण के नए मामले में 30% की कमी आई है. रविवार को पिछले 24 घंटे के दौरान देशभर में कोरोना के 69 हजार 61 नए मामले दर्ज किए गए. इस दौरान देश में 1 हजार 590 लोगों की मौत हुई, जबकि 1 लाख 32 हजार लोग कोरोना से जंग जीत गए हैं. स्वास्थ्य मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार, देश में अब तक 2 करोड़ 94 लाख 39 हजार 989 लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं. इनमें से 2 करोड़ 80 लाख 43 हजार 446 लोग इस वायरस को मात देकर ठीक हो गए हैं. फिलहाल देश में कोरोना संक्रमण के 10 लाख 26 हजार 159 एक्टिव केस हैं.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे थे. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं. न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में आज इतना ही. नई खबरों और नए अपडेट के साथ हम फिर मिलेंगे. तबतक के लिए दें विदा. नमस्कार.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज