podcast : कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिए खतरनाक नहीं, AIIMS और WHO की स्टडी

  • June 18, 2021, 11:00 am

साथियो, एम्स और डब्ल्यूएचओ की स्टडी से यह बहुत राहत भरी खबर आई है कि कोरोना की तीसरी लहर भी बच्चों पर असरदार नहीं रहेगी. नंदीग्राम के चुनावी नतीजे को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कलकत्ता हाईकोर्ट में चुनौती दी है. इस पर आज सुनवाई होनी है. इन खबरों के अलावा आज के पॉडकास्ट में हम बताएंगे कि कोर्ट के आदेश के बाद पिंजड़ा तोड़ एक्टिविस्ट नताशा नरवाल और देवांगना कलिता को तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया है. उत्तर प्रदेश के अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तरफ से विवाद वाले दिन एक और जमीन की डील की गई, जिसमें 8 करोड़ रुपये भुगतान किए गए. आज के पॉडकास्ट में हम आपको बताएंगे कि हरियाणा सरकार एक ऐसे रिटायर्ड अधिकारी पर मेहरबान है जिनपर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मामला दर्ज किया गया था. लेकिन इन सबसे पहले आइए चलें पहली खबर की ओर.



नई दिल्ली. आप सुनना शुरू कर चुके हैं न्यूज18 हिंदी का पॉडकास्ट. स्वीकार करें मेरा नमस्कार. एम्स और डब्ल्यूएचओ की स्टडी से यह बहुत राहत भरी खबर आई है कि कोरोना की तीसरी लहर भी बच्चों पर असरदार नहीं रहेगी. नंदीग्राम के चुनावी नतीजे को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कलकत्ता हाईकोर्ट में चुनौती दी है. इस पर आज सुनवाई होनी है. इन खबरों के अलावा आज के पॉडकास्ट में हम बताएंगे कि कोर्ट के आदेश के बाद पिंजड़ा तोड़ एक्टिविस्ट नताशा नरवाल और देवांगना कलिता को तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया है. उत्तर प्रदेश के अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तरफ से विवाद वाले दिन एक और जमीन की डील की गई, जिसमें 8 करोड़ रुपये भुगतान किए गए. आज के पॉडकास्ट में हम आपको बताएंगे कि हरियाणा सरकार एक ऐसे रिटायर्ड अधिकारी पर मेहरबान है जिनपर सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद मामला दर्ज किया गया था. लेकिन इन सबसे पहले आइए चलें पहली खबर की ओर.

दूसरी लहर की शुरुआत से ही जानकार कोविड महामारी की तीसरी लहर को लेकर चेतावनी दे रहे थे. कहा जा रहा था कि तीसरी लहर का सबसे ज्यादा असर बच्चों पर हो सकता है. इस बात ने हर खासोआम की चिंता बढ़ा दी थी. लेकिन अब यह राहत भरी खबर आई है कि कोरोना महामारी की तीसरी लहर बच्चों को खास प्रभावित नहीं कर पाएगी. इस बात की जानकारी हाल ही में हुई एक स्टडी से मिली है. यह स्टडी एम्स और विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से की गई है. इस अध्ययन में पाया गया कि बच्चों में हाई सीरो-पॉजिटिविटी होती है. सीरो-पॉजिटिविटी की खासियत होती है कि वह वायरस के खिलाफ प्राकृतिक इम्यून रिस्पॉन्स तैयार करने की क्षमता रखती है. इसलिए कोरोना के खिलाफ बच्चों में प्राकृतिक रूप से इम्यून रिस्पॉन्स डेवलप होगा.

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नंदीग्राम के चुनावी नतीजे को कलकत्ता हाईकोर्ट में चुनौती दी है. इस मामले पर शुक्रवार यानी आज सुनवाई होगी. राज्य में तीसरी बार सत्ता पर काबिज होने वाली ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस को चुनाव में भले ही 200 से ज्यादा सीटें मिली हैं, लेकिन वे खुद अपना चुनाव हार गई थीं. ममता बनर्जी लगातार नंदीग्राम के चुनावी नतीजे को लेकर आरोप लगाती रही हैं. 2 मई को चुनावी नतीजे आने के बाद ममता बनर्जी ने कहा था कि नंदीग्राम की जनता का फैसला वह स्वीकार करती हैं. लेकिन मतगणना के दौरान गड़बड़ी किए जाने के मसले को लेकर वे कोर्ट जाएंगी, क्योंकि उनके पास जानकारी है कि चुनाव नतीजों के एलान के बाद कुछ मैनिपुलेशंस किए गए, जिनका वे खुलासा करेंगी.

पिंजड़ा तोड़ एक्टिविस्ट नताशा नरवाल और देवांगना कलिता को तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया है. दरअसल बृहस्पतिवार को दिल्ली की एक अदालत ने उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा से जुड़े एक मामले में जामिया मिल्लिया इस्लामिया के छात्र आसिफ इकबाल तनहा, जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय की छात्रा देवांगना कालिता और नताशा नरवाल को तत्काल जेल से रिहा करने का आदेश दिया है. दिल्ली हाईकोर्ट के इन छात्र कार्यकर्ताओं को जमानत देने के दो दिन बाद अदालत ने यह आदेश दिया. इन्हें पिछले साल फरवरी में हिंसा से जुड़े एक मामले में गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) कानून के तहत मई 2020 में गिरफ्तार किया गया था. इन्हें उनके पते और जमानतदारों से जुड़ी जानकारी पूर्ण न होने का हवाला देते हुए समय पर जेल से रिहा नहीं किया गया था.

बीजेपी छोड़कर फिर से तृणमूल कांग्रेस का दामन थामने वाले मुकुल रॉय की जेड सिक्‍योरिटी गृह मंत्रालय ने वापस ले ली है. इसकी पुष्टि सीआरपीएफ अफसरों ने की. सीआरपीएफ के अफसरों ने इस बात की पुष्टि की है कि गुरुवार सुबह मुकुल रॉय की सुरक्षा में तैनात कर्मी हटा लिए गए हैं. मुकुल रॉय की सुरक्षा को पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान बढ़ाकर जेड सिक्‍योरिटी कर दिया गया था. उन्‍होंने टीएमसी कार्यकर्ताओं की ओर से खतरे की आशंका जताई थी. जेड सिक्‍योरिटी के तहत मुकुल रॉय को 33 सीआरपीएफ कर्मी तीन शिफ्ट में सुरक्षा प्रदान करते थे. इनमें सशस्‍त्र सुरक्षाकर्मी भी शामिल थे.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे हैं. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं.

उत्तर प्रदेश के अयोध्या में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा खरीदी गई जमीन पर उठा विवाद अभी थमा भी नहीं था कि इसी मामले पर एक नया विवाद और जुड़ गया है. ट्रस्ट की तरफ से विवाद वाले दिन एक और जमीन की डील की गई, जिसमें 8 करोड़ रुपये भुगतान किए गए. दरअसल जिस दिन साढ़े 18 करोड़ रुपये वाली जमीन की डील हुई, उसी दिन गाटा संख्या 242 में ही हरीश पाठक और कुसुम पाठक ने एक जमीन की रजिस्ट्री श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय के पक्ष में की. इसके लिए श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने कुसुम पाठक और हरीश पाठक के खातों में 8 करोड़ रुपये आरटीजीएस के जरिये ट्रांसफर किया.

मध्य प्रदेश का नर्सिंग स्टाफ अब हड़ताल पर नहीं जाएगा. जूडा के बाद नर्सिंग स्टाफ ने कुछ दिन पहले चरणबद्ध तरीके से आंदोलन शुरू कर दिया था. लेकिन अब काम बंद हड़ताल से पहले ही उन्होंने इस आंदोलन को वापस ले लिया है. चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग से मुलाकात के बाद नर्सिंग स्टाफ ने ये फैसला किया. सरकार ने उनकी तमाम मांगें पूरी करने के लिए एक समिति बनाई है. चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग से गुरुवार को उनके बंगले पर नर्सिंग स्टाफ के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुलाकात कर अपनी मांगों पर उनसे चर्चा की. इस दौरान विभाग के अधिकारी भी मौजूद थे. इस मुलाकात में मिले आश्वासन के बाद नर्सिंग स्टाफ प्रतिनिधिमंडल ने अपनी चरणबद्ध तरीके से चल रही हड़ताल वापस लेने का ऐलान किया.

हरियाणा सरकार ने सूचना का अधिकार आयोग के चीफ कमिश्नर के रूप में रिटायर्ड अधिकारी टीसी गुप्ता की नियुक्ति की है. चीफ कमिश्नर चुनने वाली सेलेक्शन कमेटी में सीएम मनोहर लाल खट्टर के साथ नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी मौजूद थे. आपको बता दें कि जनवरी 2019 में सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर टीसी गुप्ता के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी. सीबीआई की एफआईआर में पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा पहले और टीसी गुप्ता दूसरे नंबर पर आरोपी बनाए गए थे. दरअसल, 2009 में तब के गुड़गांव के उल्लावास, घाटा और मैदावास गांव के आसपास नए सेक्टर विकसित करने के लिए तत्कालीन सरकार ने करीब 1417 एकड़ जमीन अधिग्रहित करने की अधिसूचना जारी की थी. बाद में निजी बिल्डरों ने वह जमीन किसानों से अधिग्रहण का डर दिखाकर खरीद ली. इसके बाद सरकार ने जमीन को अधिग्रहण से मुक्त कर दिया और इसी जमीन पर बिल्डरों को लाइसेंस दे दिया था. बिल्डरों के साथ मिलकर तत्कालीन सरकार ने किसानों और जमीन मालिकों के साथ धोखाधड़ी की.

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने लिव इन रिलेशन में रह रही पहले से शादीशुदा महिला को संरक्षण देने से इनकार करते हुए उसकी याचिका खारिज कर दी है. इसके साथ कोर्ट ने याची पर 5 हजार रुपये जुर्माना भी लगाया है. यह आदेश जस्टिस केजे ठाकर और जस्टिस दिनेश पाठक के खंडपीठ ने दिया है. हाईकोर्ट ने कहा कि क्या हम ऐसे लोगों को संरक्षण देने का आदेश दे सकते हैं, जिन्होंने दंड संहिता और हिंदू विवाह अधिनियम का खुला उल्लंघन किया हो? अनुच्छेद 21 सभी नागारिकों को जीवन की स्वतंत्रता की गारंटी देता है, लेकिन यह स्वतंत्रता कानून के दायरे में होनी चाहिए, तभी संरक्षण मिल सकता है. यह मामला यूपी के अलीगढ़ की गीता का है. उनका कहना था कि वह अपनी मर्जी से पति को छोड़कर दूसरे व्यक्ति के साथ लिव इन रिलेशन में रह रही हैं. पति और उनके परिवार के लोग उसके शांतिपूर्ण जीवन में हस्तक्षेप कर रहे हैं, इसलिए उनको ऐसा करने से रोका जाए और याची को सुरक्षा दी जाए.

ये खबरें आप न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में सुन रहे थे. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉटकॉम पर जाएं. न्यूज 18 हिंदी के पॉडकास्ट में आज इतना ही. नई खबरों और नए अपडेट के साथ हम फिर मिलेंगे. तबतक के लिए दें विदा. नमस्कार.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज