अपना शहर चुनें

  • No filtered items

राज्य

Postcast: आखिर क्‍यों बढ़ने लगे पुरुषों में स्‍तन कैंसर के मामले?

  • November 10, 2021, 2:15 pm

ब्रेस्‍ट कैंसर के मामले अब सिर्फ महिलाओं तक ही सीमित नहीं हैं, पुरुषों में भी ब्रेस्‍ट कैंसर के मामले तेजी से देखे जा रहे हैं. हाल में ही एक मामला दिल्‍ली के पटपड़गंज मैक्‍स सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल से सामने आया है. यह मामला एक 70 वर्ष से जुड़ा हुआ है. अब सवाल यह है कि पुरुषों में ब्रेस्‍ट कैंसर होने के क्‍या कारण हैं या इसके लक्षण क्‍या हैं. इन तमाम सवालों का जवाब जानने के लिए हमने बात की पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के ऑन्कोलॉजी डिपार्टमेंट में वरिष्ठ निदेशक डॉ. मीनू वालिया से. आइए सुने डॉ. वालिया से ब्रेस्‍ट कैंसर को लेकर खास बातचीत ....



नमस्‍कार, मैं अनूप कुमार मिश्र, न्‍यूज 18 हिंदी के हेल्‍थ पॉडकॉस्‍ट में एक बार फिर हाजिर हूं आपकी सेहत से जुड़े नए सवाल के साथ. आज का सवाल है …क्‍या पुरुषों को स्‍तन कैंसर हो सकता ? इस सवाल का जवाब है- हां. हाल में ही, पुरूष स्‍तन कैंसर का एक मामला दिल्‍ली के पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल में सामने आया है. दरअसल, दिल्‍ली में रहने वाल 70 वर्षीय एक बुजुर्ग, स्‍नत में गांठ की शिकायत लेकर अस्‍पताल पहुंचे थे. उन्‍हे दो साल पहले अपने स्‍तन में गांठ का अहसास हुआ था, लेकिन तब वे इस गांठ को नजर अंदाज कर गए थे.

कुछ महीने पहले, अचानक इस गांठ में तेजी से बढ़ोत्‍तरी होने लगी. इस असामान्‍य बढ़ोत्‍तरी ने इन बुजुर्ग को चिंता में डाल दिया. चूंकि, उस समय कोविड लॉकडाउन चल रहा था, लिहाजा बुजुर्ग इलाज के लिए हॉस्पिटल नही पहुंच सके. लॉकडाउन खुलने तक बुजुर्ग की परेशानी बहुत बढ़ गई और वे इलाज के लिए पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल पहुंच गए. हॉस्पिटल में हिस्टोपैथोलॉजी और रेडियोलॉजी जांच के बाद दाहिने स्‍तन में ग्रेड III का कैंसर कंफर्म हो गया.

इस कैंसर की पहचान इनवेसिव डक्टल कार्सिनोमा के रूप में हुई. स्‍तन कैंसर की पुष्टि होने के बाद बुजुर्ग का इलाज शुरू हुआ. सितंबर 2021 में बुजुर्ग मरीज को रेडिकल मास्टेक्टॉमी ट्रीटमेंट दिया गया. फिलहाल, कीमोथेरेपी की  प्रक्रिया जारी है. उपचार शुरू होने के बाद, बुजुर्ग में तेजी से सुधार हो रहा है और अब वे अपने सभी काम कर रहे हैं. यहां 70 वर्ष के बुजुर्ग अकेले ऐसे नहीं हैं जो ब्रेस्‍ट कैंसर से प‍ीडि़त हैं. रिपोर्ट के अनुसार, हर 833 लोगों में एक शख्‍स ब्रेस्‍ट कैंसर का शिकार हो रहा है.

अब सवाल यह है कि अचानक से पुरुषों में ब्रेस्‍ट कैंसर होने के क्‍या कारण हैं या इसके लक्षण क्‍या हैं. इन तमाम सवालों का जवाब देने के लिए हमने बात की पटपड़गंज मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के ऑन्कोलॉजी डिपार्टमेंट में वरिष्ठ निदेशक डॉ. मीनू वालिया से.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज