Podcast: किसानों के साथ केंद्र की बैठक आज, जानें कोविशिल्ड और कोवैक्सीन कितनी सुरक्षित

  • January 4, 2021, 10:06 am

न्यूज18 के आज के पॉडकास्ट में हम आपको बताएंगे कोरोना वैक्सीन को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों के बारे में और वैक्सीन की वास्तविक स्थिति के बारे में. इसके अलावा किसान आंदोलन, मौसम का हाल और अन्य महत्त्वपूर्ण खबरें भी होंगी आज के पॉडकास्ट में.



नई दिल्ली. नए साल के पहले पॉडकास्ट में आपका स्वागत है एक अच्छी और राहत भरी खबर के साथ. ड्रग्‍स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया यानी DCGI ने भारत में दो कोरोना वैक्सीन के आपातकालीन इस्तेमाल को मंजूरी दे दी है. DCGI ने सीरम इंस्टीट्यूट की कोविशील्ड और भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के आपातकाल इस्तेमाल को अंतिम मंजूरी दे दी है. हालांकि कोरोना वैक्सीन की मंजूरी से पहले ही इसको लेकर अफवाहों का बाजार भी गर्म हो गया है. कुछ लोगों ने वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर गलतबयानी शुरू कर दी है. देश में तेजी से बढ़ रही अफवाहों को देखते हुए DCGI ने इसे बकवास बताया है और इस ​तरह की अफवाहों से बचने की सलाह दी है. DCGI के कहा कि जिन दो वैक्सीन को मंजूरी दी गई है वह 110 प्रतिशत पूरी तरह से सुरक्षित हैं. उन्होंने कहा कि अगर वैक्सीन के साइड इफेक्ट को लेकर जरा भी चिंता की बात होती तो वे इसके इस्तेमाल की इजाजत नहीं देते. उन्होंने कहा कि वैक्सीन लेने के बाद हल्का बुखार, सरदर्द, एलर्जी जैसी मामूली दिक्कतें हो सकती है.

कोरोना से बचाव वाली वैक्सीन को लेकर आपके कई सवालों के जवाब केंद्र सरकार द्वारा जारी इस वीडियो में मिलेंगे. वैक्सीन को लेकर मन में उठने वाले कई सवालों के जवाब पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट हिंदी डॉट न्यूज18 डॉट कॉम पर जाएं.

गाजियाबाद के मुरादनगर के श्मशान घाट में रविवार को बड़ा हादसा हो गया. यहां अंतिम संस्कार में शामिल होने आए कई लोग श्मशान घाट की छत गिरने से दब गए. यह छत चार महीने पहले ही बनी थी. जिला प्रशासन और एनडीआरएफ की टीम ने रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया. गाजियाबाद जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय ने इस हादसे में 23 लोगों की मौत की पुष्टि की है. उन्होंने बताया कि 15 घायलों को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इसमें से कई की हालत गंभीर बनी हुई है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद जिला प्रशासन से इस घटना की रिपोर्ट मांगी है.

बिहार में स्कूल, कॉलेज, विश्वविद्यालय सहित विभिन्न शैक्षणिक संस्थान सोमवार यानी आज से खुल जाएंगे. कोविड-19 महामारी फैलने के बाद राज्य में शैक्षणिक संस्थान करीब नौ महीने से बंद थे. शिक्षा विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार ने बताया कि ये कक्षाएं सरकार की ओर से जारी की गई गाइडलाइन का पालन करते हुए ही चलाई जाएंगी. उन्होंने कहा कि सभी छात्रों के लिए परिसर में मास्क पहनना अनिवार्य किया गया है. बिना मास्क किसी भी विद्यार्थी को परिसर में प्रवेश की अनुमति नहीं दी जाएगी. इसके अलावा 9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं 50 प्रतिशत उपस्थिति के साथ संचालित होंगी ताकि कक्षाओं में सामाजिक दूरी के नियम का पालन सुनिश्चित किया जा सके.

राजधानी दिल्‍ली में हुई बारिश के बाद ठंड बढ़ गई है. तेज बारिश की वजह से कई जगहों पर जलभराव की स्थिति रही. मौसम विज्ञान विभाग के अनुसार दिल्‍ली समेत कुछ अन्य राज्यों में भी बारिश होगी. उत्तर भारत में 5 जनवरी तक भारी बारिश जारी रहने का अनुमान है. इसके साथ ही अलग-अलग स्थानों पर बारिश के अलावा ओलावृष्टि का भी पूर्वानुमान है. आईएमडी के मुताबिक, इस तरह की मौसमी गतिविधियां मैदानी इलाकों यानी पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और उत्तरी राजस्थान में सोमवार को चरम पर रहेंगी. यही हाल सोमवार को पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र का भी रहेगा. यानी जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड मौसम की गतिविधियां चरम पर रहेंगी.

कृषि कानूनों को लेकर जारी विरोध प्रदर्शनों के बीच आज किसान संगठन और सरकार के बीच सातवें दौर की बातचीत होगी. किसानों की चार प्रमुख मांगों में से दो पर सरकार पहले ही सहमति दे चुकी है. लेकिन, एमएसपी पर लिखित भरोसा और कानून वापसी पर अभी भी गतिरोध जारी है. सरकार को भरोसा है कि इस बार दोनों ओर से जिद की दीवार टूटेगी और आंदोलन समाप्ति की ओर से बढ़ सकता है. बैठक से पहले भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा, "आज का एजेंडा रहेगा स्वामीनाथन कमेटी की रिपोर्ट, तीन कृषि क़ानूनों की वापसी और न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर क़ानून बने. हम वापस नहीं जाएंगे. अब तक 60 किसान शहीद हो चुके हैं. सरकार को जवाब देना होगा."
वहीं, केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने उम्मीद जताई कि आज की बैठक में समझौता होगा और किसानों की समस्याओं का हल निकलेगा. उन्होंने कहा, "हमें पूरी उम्मीद है कि किसानों के साथ होने वाली बैठक में समझौता होगा और किसानों की समस्या का हल निकलेगा. हमें आशा है कि बातचीत होगी और आंदोलन का समापन होगा." ये खबरें आप न्यूज 18 के पॉडकास्ट में सुन रहे हैं. इन्हें विस्तार से पढ़ने के लिए हिंदी डॉट न्यूज18 डॉट कॉम पर जाएं.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज