IPL Podcast: मुंबई इंडियंस की जान हलक में, प्लेऑफ में पहुंचने के लाले पड़े, CSK नंबर-1

  • October 1, 2021, 2:58 pm

Podcast Suno DiL SE: आईपीएल (IPL 2021) मे पांच बार की चैंपियन मुंबई इंडियंस (Mumbai Indians) की जान हलक मे अटकी हुई है. इस बार खिताब तो दूर, प्लेऑफ (IPL 2021 playoffs) मे पहुंचने के लाले पड़े हुए हैं. अगले दौर में अपनी सीट पक्की करने के लिए मुंबई को बाकी बचे तीनों मैच जीतने होंगे, कल दिल्ली से और फिर राजस्थान रॉयल्स से और अंत मे हैदराबाद से खेलना होगा.



हफ्ते भर की क्रिकेट सरगर्मियों को समेटे इस पॉडकास्ट में हाजिर हूं मैं संजय बैनर्जी, स्वागत आप सभी का, सुनो दिल से. आईपीएल मे पांच बार की चैंपियन मुंबई की जान हलक मे अटकी हुई है. इस बार खिताब तो दूर, प्लेऑफ मे पहुंचने के लाले पड़े हुए हैं. अगले दौर में अपनी सीट पक्की करने के लिए मुंबई को बाकी बचे तीनों मैच जीतने होंगे, कल दिल्ली से और फिर राजस्थान रॉयल्स से और अंत मे हैदराबाद से खेलना होगा. जाहिर है, चुनौती बड़ी है, और क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट की अनिश्चितता को देखते हुए कुछ भी नहीं कहा जा सकता. खासकर मुंबई पर संकट उस समय है जब कोहली के भारतीय टीम की टी20 की कप्तानी से इस विश्व कप के बाद हटने की घोषणा से नए कप्तान के रूप मे सभी की निगाहें रोहित शर्मा पर लगी हैं.

चेन्नई सुपर किंग्स ने क्वालीफाई कर लिया है. दिल्ली कैपिटल्स को क्वालीफ़िकेशन की औपचारिकता निभानी है. बाकी बची दो जगहों के लिए रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुर का दावा मजबूत है. कोलकाता नाइट राइडर्स भी प्लेऑफ की दौड़ में कायम है. अब तक सिर्फ सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ही औपचारिक रूप से इस होड़ से बाहर हुई है. राजस्थान रॉयल्स और पंजाब किंग्स की संभावनाएं भी लगातार रूठ रही हैं. कोलकाता और पंजाब के बीच होने वाला आज का मैच भी अहम होगा.

भारत में स्थगित होने के पांच महीने बाद यूएई में हो रहे दूसरे फेज के आईपीएल के मैचों में सीएसके एकमात्र टीम साबित हुई है जिसने सभी चारों मैचों में जीत हासिल की है. अभी उसके तीन लीग मैच दिल्ली, पंजाब और राजस्थान से होने बाकी हैं, जाहीर है प्ले ऑफ में  जगह बना चुकी चेन्नई की टीम दूसरे दौर मे अजेय रिकॉर्ड के साथ अगले दौर में जाना चाहेगी.

चेन्नई का अब तक का प्रदर्शन एमएस धोनी को बेहतर रणनीति वाला कप्तान साबित करता है. हालांकि इस बार भी अब तक धोनी के बल्ले का करिश्मा देखने को नहीं मिला है. पूरे सीजन में उनका उच्चतम स्कोर 18 रन ही रहा है. बल्लेबाजी में रुतुराज गायकवाड और फाफ डू प्लेसिस ने अपने प्रदर्शन से सीएसके को अगले दौर तक पहुंचाया है. इसी तरह गेंदबाजी में ड्वेन ब्रावो, शार्दुल ठाकुर और जोश हेजलवुड ने भी बेहतरीन कांट्रीब्यूशन किया है.

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू के गेंदबाज हर्षल पटेल लगातार बाकी गेंदबाजों को पीछे छोड़ रहे हैं. पिछले हफ्ते ही उन्होंने मुंबई इंडियंस के खिलाफ हैट्रिक ली थी. गेंदबाजी की बात चली है तो कोलकाता नाइट राइडर्स ने जिन पिछले चार में से तीन मैच जीते हैं उसमें स्पिनरों के साथ-साथ तेज गेंदबाजों के कारनामों का खासा हाथ रहा है. सुनील नारायण हो आंद्रे रसेल या फिर लॉकी फर्गुसन-सभी ने बेहतर प्रयास किए हैं.

IPL 2021 Point Tally

IPL 2021 Point Tally

टी20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले हो रहे इस दूसरे दौर को वर्ल्ड कप की तैयारियों के रूप में देखा जा रहा है. भारतीय टीम में शामिल कुछ खिलाड़ियों का फॉर्म थोड़ा परेशान करने वाला है. इनमें ईशान किशन और सूर्यकुमार यादव के नाम प्रमुख हैं. इसके विपरीत शिखर धवन और संजू सैमसन सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. दोनों ही भारतीय टीम में शामिल नहीं हैं. किसी भी टीम मे नाम दस अक्टूबर तक बदले जा सकते हैं, चर्चा है कि भारत इस ओर सोच सकता है, लेकिन टीम इंडिया की पिछले वर्षों मे कार्य शैली को देखते हुए इस बात की संभावना लगती नहीं है.

वर्ल्ड टी20 का आयोजन यूएई में ही होना है. बीसीसीआई ने फ्रेंचाइज से यह भी कहा है कि वे उन खिलाड़ियों पर ज्यादा वर्कलोड न डालें जो भारतीय टीम का हिस्सा हैं. हार्दिक पंड्या का मामला भी थोड़ा गहराता जा रहा है. उनके कंधे की चोट पूरी तरह ठीक हुई है या नहीं, कोई स्पष्ट जानकारी सामने नहीं आ रही है. हार्दिक भारतीय टीम के लिए महत्वपूर्ण हैं और अगर किसी तरह का संशय है तो यह टीम इंडिया के लिए सही नहीं रहेगा.

वर्ल्ड कप को लेकर रोहित शर्मा से जुडे सुनील गावस्कर के बयान ने थोड़ी सुगबुगाहट पैदा की है. गावस्कर ने कहा है कि वर्ल्ड कप में रोहित शर्मा को ही भारतीय टीम का कप्तान होना चाहिए. अगले साल भी भारत को वर्ल्ड कप में भाग लेना है और विराट के बाद कप्तान बदलने से टीम में काफी बदलाव आ सकता है.

नवंबर में रवि शास्त्री के कोच पद छोड़ने के बाद अगला कोच कौन होगा, इसपर कुछ तय नहीं है. अनिल कुंबले को विकल्प माना जा रहा था, लेकिन छनकर आ रही खबरों में बताया जा रहा है कि कुंबले कोच नहीं बनेंगे. खुद कुंबले चाहते हैं कोई विदेशी ही कोच पद संभाले.

भारत की महिला क्रिकेटर इस समय ऑस्ट्रेलिया में है और वहां पिंकबॉल टेस्ट खेलने में व्यस्त है. महिला क्रिकेट में भारत का यह पहला डे-नाइट टेस्ट है जबकि यह दुनिया का केवला दूसरा महिला डे-नाइट टेस्ट है. आस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत पिछले 44 साल में एक भी टेस्ट नहीं जीत पाया है. 15 साल बाद दोनों के बीच हो रहे टेस्ट के पहले दिन भारत ने खराब मौसम और टॉस हारने के बाद अच्छी शुरुआत की. स्मृति मंधाना का स्वप्निल फॉर्म जारी है और उन्होंने अपना शतक भी पूरा कर लिया है.

उधर, भारतीय महिला टीम की कप्तान मिताली राज वनडे महिला रैंकिंग में अपना पहला स्थान आखिर नहीं बचा पाई. मिताली अब दो पायदान नीचे खिसककर पहले से तीसरे स्थान पर आ गई हैं. दक्षिण अफ्रीका की लिजेल ली पहले स्थान पर आ गई हैं. वैसे गेंदबाजी में झूलन गोस्वामी रैंकिंग मे दूसरे स्थान पर पहुंच गई हैं. यह उनके करियर की सर्वश्रेष्ठ रैंकिंग है.

और अंत में घरेलू क्रिकेट. अंडर-19 वीनू मांकड वनडे टूर्नामेंट का आज चौथा दिन है. कई मैच खेले जा चुके हैं. इस दौरान अब तक नौ शतक बन चुके हैं. इसके अलावा महिलाओं की अंडर-19 वनडे प्रतियोगिता भी शुरू हो चुकी है. इसमें पंजाब की ऐशमिन कौर और त्रिपुरा की तनीषा दास शतक जड़ चुकी है.

आज के इस पॉडकास्ट मे इतना ही, अगले हफ्ते क्रिकेट की सरगर्मियों को समेटे हम फिर हाजिर होंगे, तब तक के लिए इजाजत दीजिए संजय बैनर्जी को, और चलते रहिए न्यूज़18 के साथ.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज