PODCAST, सुनो दिल से: विराट कोहली ने किया टी20 कप्तानी छोड़ने का ऐलान, सज गया है IPL 2021 का मैदान

  • September 17, 2021, 8:03 pm

विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी छोड़ने के ऐलान से, आईपीएल 2021 (IPL 2021) के मैदान तक. मशहूर कमेंटेटर संजय बैनर्जी की आवाज में सुनिये क्रिकेट की बड़ी खबरें



नमस्कार , स्वागत आप सभी का, सप्ताह भर की क्रिकेट सरगर्मियों को समेटे आपकी खिदमत मे हाजिर हूं मैं संजय बैनर्जी, सुनो दिल से… कहते हैं तिल से ही ताड़ बनता है और बिना आग के धुआं भी नहीं होता. विराट कोहली (Virat Kohli) जल्द ही टी 20 क्रिकेट से टीम की कप्तानी छोड़ने वाले हैं, यह शिगूफ़ा कुछ दिनों से आम हो चुका था . आम तौर पर जरूरी खबरों पर रिएक्ट नही करने वाले बीसीसीआई ने इस पर रिएक्ट किया और इसे बकवास बताया. लेकिन अब विराट कोहली ने खुद बोल चुके है कि वह टी 20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) के बाद इस फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ देंगे. कोहली ने इस बारे में बयान में कहा कि इस फैसले को लेने में मुझे काफी वक्त लगा, लेकिन यह जरूरी था. तय कुछ भी नहीं है, लेकिन ऐसा लग रहा है कि टी-20 की कमान अब रोहित शर्मा के ही हाथों मे होगी.

मैदान के बाहर की सुर्खियों मे कोहली छाए हुए हैं लेकिन मैदान के भीतर अब सारी निगाहें रविवार से दोबारा शुरू हो रही इंडियन प्रीमियर लीग पर है. जैसा की आप जानते हैं जिस समय आईपीएल को कोरोना विस्फोट की वजह से रोका गया था, उसका तकरीबन आधा सफर तय हो चुका था. रविवार को पहला मैच आईपीएल इतिहास की दो बड़ी टीमों के बीच होगा, यानि रोहित शर्मा की मुंबई इंडियंस के सामने महेंद्र सिंह धोनी की टीम चेन्नई सुपर किंग्स होगी. गिने चुने कुछ दिनों के अलावा ज्यादातर दिन सिंगल मुकाबले ही खेले जाएंगे. पिछले सीजन अपने चाहने वालों को निराश करने वाली चेन्नई की टीम इस बार बेहतर कर रही है, और पॉइंट्स टेबल पर दिल्ली के बाद दूसरी पोजिशन पर है, वहीं 5 बार आईपीएल खिताब जीतने वाली मुंबई इंडियंस इस समय चौथे स्थान पर है. आईपीएल का अभी आधा सफर बाकी है, और ऐसे मे बाकी टीमों के पास भी पॉइंट्स टेबल मे बेहतर करने की गुंजाइश भी बाकी है.

इंग्लैंड के लगभग आधे दर्जन खिलाड़ियों के आईपीएल से हटने के बाद कई फ्रेंचाइस को नए विकल्प तलाशने मे खासी मशक्कत करनी पड़ी है. राजस्थान रॉयल्स को इस मामले में सबसे ज्यादा मार झेलनी पडी. डेविड मलान, जोफ्रा आर्चर, बेन स्टोक्स, जोस बटलर और जॉनी बेयरस्टो के बाद अब क्रिस वोक्स ने भी अपना नाम लीग से वापस ले लिया है.

यही नहीं ईसीबी ने एक और फरमान जारी किया है कि आईपीएल के प्लेआफ के दौरान उन खिलाड़ियों को खेलने की अनुमति नहीं होगी जो इंग्लैंड की वर्ल्ड कप टीम मे शामिल होंगे. इंग्लैंड ने टी-20 वर्ल्ड कप से ठीक पहले पाकिस्तान में सीरीज खेलने का फैसला किया है. आईपीएल के प्लेऑफ 10 अक्टूबर से शुरू होने हैं जबकि इंग्लैंड-पाकिस्तान की सीरीज 13 अक्टूबर से शुरू होगी. इंग्लैंड का यह फैसला भी आईपीएल टीमों की परेशानी बढ़ाएगा.

इस बीच टी-20 वर्ल्ड कप के लिए लगभग सभी टीमों ने अपने खिलाड़ियों के नाम घोषित कर दिये हैं. ओमान और यूएई में भी इसको लेकर कुछ टीमों ने समय से पहले अभ्यास मैच खेलने का निर्णय किया है. भारत और पाकिस्तान के बीच सबसे बड़ा मुकाबला 24 अक्टूबर को खेला जाएगा.

भारत-पाकिस्तान द्विपक्षीय सीरीज को लेकर हमेशा चर्चा मे रहते है. अब रमीज राजा के पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चेयरमैन बनने पर इस मुद्दे पर कुछ समय के लिए विराम लग गया है. रमीज राजा ने अपने पहले प्रेस कांफ्रेंस में कहा है कि फिलहाल दोनों देशों के बीच बाईलेटरल सीरीज संभव नहीं है. रमीज के आते ही पाक टीम में भी बदलाव होने लगे हैं. मिस्बाह उल हक और वकार युनूस के कोच पद से इस्तीफे के बाद उनकी जगह मैथ्यू हेडन को हेड कोच और वेर्नोन फिलैंडर को बॉलिंग कोच बनाया गया है. इसका टी-20 वर्ल्ड कप पर क्या असर पड़ेगा, देखना दिलचस्प होगा.

भारत और इंग्लैंड सीरीज अब भी अधर मे लटकी हुई है, भारत जीता या सीरीज ड्रॉ रही, अब भी यह तय नहीं है. आईसीसी पर सब कुछ छोड़ दिया गया है और इस पर कितना वक्त लगेगा, कहा नहीं जा सकता. वैसे भी आईसीसी के लिए इस मामले को लंबा टालना ही, बेहतर होगा.क्योंकि उसका कई भी फैसला किसी एक पार्टी को पसंद नहीं आएगा. मैनचेस्टर का पांचवां और अंतिम टेस्ट ‘कोरोना इफैक्ट’ के कारण नहीं खेला जा सका. कई सपोर्ट स्टाफ के संक्रमण के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने पांचवां टेस्ट खेलने से मना कर दिया था और आखिरकार वह मुकाबला नहीं हो सका. भारत सीरीज में तब तक 2-1 से आगे था. अनिश्चित काल के लिए स्थगित हुए मुकाबले को दोबारा खेला आएगा, इस पर दोनों देशों की रजामंदी है, लेकिन भारत चाहता है की इससे स्थगित माना जाए और इंग्लैंड चाहता है कि इसे रद्द किया जाए ताकि सीरीज बराबरी पर खत्म हो, अब आईसीसी के दरबार मे कौन भारी पड़ता है, इसका इंतज़ार करना होगा. ईसीबी ने आईसीसी से आग्रह किया है कि इस बारे में जल्द फैसला लिया जाए. शायद आईसीसी को भी मैच रेफरी क्रिस ब्रॉड की रिपोर्ट का इंतजार है. बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली 22 सितम्बर को निजी दौरे पर इंग्लैंड जाएंगे और शायद वे वहां ईसीबी से मिलकर कुछ तय कर लेंगे,लेकिन गांगुली कह चुके हैं कि इस टेस्ट को स्थगित ही माना जाएगा. सो हम भी वही मान कर चल रहे हैं.

सीरीज का महत्व इसलिए भी है क्योंकि यह वर्ल्ड टेस्ट चैंपियनशिप का हिस्सा है. प्रत्येक टेस्ट पर अंक मिलते हैं और कोई भी देश इसे गंवाना नहीं चाहता. आखिरकार फाइनल में पहुचने का दारोमदार इन्हीं अंकों पर होता है. आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड पिछले संस्करण में इसे देख चुके हैं. कुछ नुकसान के कारण दोनों में से कोई भी फाइनल नहीं खेल सका था. अगर मैच को स्थगित माना जाता है तो इंग्लैंड के लिए सीरीज में बराबरी का मौका रहेगा, वरना भारत इस सीरीज को अपने नाम कर लेगा. लेकिन तीसरा विकल्प आईसीसी यह भी दे सकता है कि इसे ‘परिणाम नहीं’ के दायरे में रखकर दोनों को कुछ अंक दे दे. इस हालात में भी भारत सीरीज जीत लेगा. वैसे डब्ल्यूटीसी नियमों में फिलहाल इस तरह के विकल्प का कोई जिक्र नहीं है. हार-जीत, ड्रॉ या टाई पर ही अंक मिलने के प्रावधान हैं.

इस बीच बीसीसीआई ने टेस्ट न होने के कारण इंग्लैंड को हुए घाटे की भरपाई के लिए टेस्ट के अलावा दो अतिरिक्त टी 20 मैच भी खेलने का विकल्प दिया है. असल में कोच रवि शास्त्री के पॉजिटिव आने के बाद से ही कोरोना का प्रभाव भारतीय खेमे में बढ़ता गया था. कई लोग इसके लिए शास्त्री को ही दोषी मानते हैं. शास्त्री ने किताब के विमोचन के दौरान कई लोगों को बुलाया था और माना जा रहा है कि इसी दौरान वह संक्रमित हुए थे. लेकिन शास्त्री साहेब ने अपना बचाव किया है और कहा है कि मैच नहीं होने का दोष उनपर नहीं थोपा जा सकता.

और अंत में महिला क्रिकेट. भारतीय महिला टीम इन दिनों ऑस्ट्रेलिया के दौरे पर है और यह टीम अपने मैचों का आगाज इसी सप्ताह करेगी. स्मृति मंधाना का मानना है कि हमारी टीम पिछले वर्ल्ड कप के बाद बढ़िया खेली है. अब फिर ऑस्ट्रेलिया से सामना है. इधर मिताली राज आईसीसी की वनडे रैंकिंग में संयुक्त रूप से पहले स्थान पर हैं. मिताली के साथ साउथ अफ्रीका की ओपनर लीजल ली नंबर एक पर काबिज है.

तो आज के इस पॉडकास्ट मे इतना ही, संजय बैनर्जी को इजाजत दीजिए , अगले हफ्ते फिर मिलेंगे, अपना खयाल रखिए और चलते रहिए न्यूज़18 के साथ.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज