Podcast: वर्ल्ड कप सिर पर, फिर भी भारत के खिलाड़ियों को क्यों दिया जा रहा आराम

  • October 7, 2022, 7:00 PM

विश्व कप के लिए गुरु राहुल द्रविड़ की रहनुमाई मे लंबे समय से प्रयोगों का सिलसिला जारी है, लेकिन हकीकत यह है कि सिर्फ जसप्रीत बुमराह की विश्व कप में गैरमौजूदगी से समूचा भारतीय क्रिकेट जगत परेशान है. बुमराह पिछले कई महीनों से फिट न होने की वजह से वैसे भी टीम में नहीं थे. उस पर प्रयोगों का सिलसिला यह कि उनकी जगह किसे मिलेगी, अभी यह तय नही है.



दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 वर्ल्ड कप से पहले तीन बेमकसद वनडे मैचों की सीरीज का पहला मुकाबला कल (6 अक्टूबर) लखनऊ मे मेहमान ने जीता. बारिश की वजह से ओवर घटा कर 40 कर दिए गए थे. भारत की दोयम दर्जे की इस टीम के कप्तान शिखर धवन ने हालात का आकलन करते हुए पहले फील्डिंग की. पहले क्विंटन डिकॉक और उसके बाद डेविड मिलर और हेनरिक क्लासेन ने शानदार बल्लेबाजी की. पांचवे विकेट के लिए दोनों ने नाबाद रहते हुए 139 रन जोड़े और भारत की दंतहीन गेंदबाजी को जम कर एक्सपोस किया. जीत के लिए 250 का लक्ष्य लेकर उतरी भारतीय टीम अपने 4 विकेट सिर्फ 51 के स्कोर पर गंवा चुकी थी. शुभमन गिल, शिखर धवन, ऋतुराज गायकवाड़ और ईशान किशन ने जल्दी घुटने टेक दिए. हालांकि, श्रेयस अय्यर के अर्धशतक और संजू सैमसन के 63 गेंदों पर 86 रनों ने मुकाबले को दिलचस्प बना दिया, लेकिन जीत फिर भी 9 रन दूर रह गई.

भारत के लिए इस सीरीज का कोई अर्थ हो न हो, दक्षिण अफ्रीका के लिए है, क्योंकि उसने अब तक वनडे विश्व कप के लिए क्वॉलिफाई नहीं किया है. और अगर भारत के अलावा बची हुई दो और वनडे सीरीज भी वह जीत लेता है, तो उसे ऑटोमैटिक क्वॉलिफिकेशन मिल जाएगा. उधर विश्व कप के लिए गुरु राहुल द्रविड़ की रहनुमाई मे लंबे समय से प्रयोगों का सिलसिला जारी है, लेकिन हकीकत यह है कि सिर्फ जसप्रीत बुमराह की विश्व कप में गैर मौजूदगी से समूचा भारतीय क्रिकेट जगत परेशान है. बुमराह पिछले कई महीनों से फिट न होने की वजह से वैसे भी टीम में नहीं थे. उस पर प्रयोगों का सिलसिला यह कि उनकी जगह किसे मिलेगी, अभी यह तय नही है.

दक्षिण अफ्रीका के साथ आखिरी टी20 मे अर्शदीप सिंह नहीं थे. उनकी भी कमी खली और ठीक जब विश्व कप सिर पर हो तो विराट कोहली और लोकेश राहुल को आराम दे दिया गया. समझ से परे है, क्या टीम इंडिया के लिए खेलते हुए सचमुच इतने आराम की जरूरत होती है. तीसरे टी20 मे हारने के बाद भी भारत ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ तीन मैचों की टी20 सीरीज 2-1 के अंतर से जीत ली. यह पहला मौका है, जब भारत ने अपनी धरती पर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज जीती है.

विश्व कप में दोनों देश एक ही ग्रुप में हैं. लिहाजा इस सीरीज से दोनों ने एक-दूसरे को काफी हद तक नाप लिया होगा. ऑस्ट्रेलिया में अगर दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ भारत ने मुकाबला जीत लिया तो एक तरह से टीम के लिए सेमीफाइनल में पहुंचने का रास्ता आसान हो जाएगा. हालांकि टॉप आर्डर की बल्लेबाजी अब भी भारत के लिए सरदर्द बनी हुई है. ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका दोनों के खिलाफ भारत ने सीरीज जीती जरूर , लेकिन संघर्ष के साथ. उधर दक्षिण अफ्रीका का मिडिल ऑर्डर जमकर बल्लेबाजी कर रहा है. डेविड मिलर के शतक के बावजूद दक्षिण अफ्रीका ने दूसरा मैच गंवाया, लेकिन तीसरे मैच में रिले रुसो के शतक ने भारत की जीत की संभावना को कोसों पीछे छोड़ दिया.

अच्छी बात है कि विराट कोहली और लोकेश राहुल ने पहले दो मैचों में अपने हाथ दिखाए हैं. खासकर राहुल के बारे में कहना होगा कि उन्होंने धीमी बल्लेबाजी की आलोचना झेलने के बाद सबका मुंह बंद करते हुए केवल 28 गेंदों पर 57 रन की एक तेज पारी भी खेली. वैसे यह भी सच है कि पिछले कई मैचों से भारतीय टीम की बल्लेबाजी सूर्यकुमार यादव के इर्द-गिर्द घूम रही है. स्काई चले तो ठीक, वरना टीम इंडिया का मुश्किल में पड़ना तय माना जाता है. अगर सूर्यकुमार इंदौर के तीसरे टी20 मुकाबले में चले होते तो शायद भारत को हार नहीं देखनी पड़ती. ऋषभ पंत को ओपनर के तौर पर फिर आजमाया गया, लेकिन सेट होने के बाद विकेट फेंकने का सिलसिला वह नही रोक सके. दूसरी ओर दिनेश कार्तिक ने लगातार दूसरे मैच में दिखाया कि वह टारगेट तक पहुंचने में फिनिशर की भूमिका मे कामयाब हो सकते हैं.

उधर भारतीय महिलाओं ने बांग्लादेश में चल रही टी20 एशिया कप में लगातार तीन मैच जीतकर सेमीफाइनल की तरफ कदम बढ़ा दिए हैं. अब तक भारत ने श्रीलंका, मलेशिया और यूएई को हराया है. इन मैचों में जेमिमा रोड्रिग्ज ने अपने प्रदर्शन से सबका ध्यान खींचा है. जेमिमा के अलावा हरमनप्रीत कौर, स्मृति मंधाना, शेफाली वर्मा, दीप्ति शर्मा और रिचा घोष ने बल्लेबाजी में असरदार प्रदर्शन किया है. यूएई के खिलाफ हरमनप्रीत कौर को आराम दिया गया. स्मृति मंधाना ने कप्तानी संभाली, लेकिन बल्लेबाजी के लिए नहीं जाकर बाकी बैटरों को अभ्यास का मौका दिया. पिछ्ले दो मैचों में भारतीय टीम ने आठ बदलाव किए हैं.

भारतीय महिला टीम को आज (7 अक्टूबर) पाकिस्तान से खेलना है. पाकिस्तान ने अब तक तीन में से दो मैच जीते हैं. उसने पहले मलेशिया और फिर बांग्लादेश के खिलाफ आसान जीत हासिल की, लेकिन तीसरे मैच में थाईलैंड के खिलाफ पाकिस्तान को चार विकेट से अप्रत्याशित हार का सामना करना पड़ा है. भारत को लीग का अंतिम मैच थाईलैंड से ही 10 अक्टूबर को खेलना है. फिर भी भारत और पाकिस्तान के बीच होने वाले आज के मुकाबले पर सबकी नजरें हैं. भारत को पाकिस्तानी बैटर मुनीबा अली, सिदरा अमीन और बिस्माह मारूफ के साथ ही औमना सोहेल, तुबा हसन, निदा दार और दियाना बेग जैसे गेंदबाजों पर काबू रखना होगा.

भारत और पाकिस्तान की महिला टीमों के बीच अगले साल फरवरी में होने वाले टी20 विश्व कप में फिर आमना-सामना होगा. दक्षिण अफ्रीका में होने वाले इस वर्ल्ड कप में भारत और पाकिस्तान के साथ इंग्लैंड, वेस्टइंडीज और आयरलैंड को ग्रुप बी में रखा गया है. इस बीच महिला क्रिकेट के लिए अच्छी खबर है कि बर्मिंघम के बाद 2026 में आस्ट्रेलिया के विक्टोरिया में होने वाले कॉमनवेल्थ गेम्स में भी यह खेल शामिल रहेगा.

आईसीसी ने सितम्बर माह के बेस्ट क्रिकेटर के लिए महिला वर्ग में हरमनप्रीत कौर और स्मृति मंधाना को नामित किया है जबकि पुरुष वर्ग में अक्षर पटेल को भी रखा गया है. देखना है कि यह अवॉर्ड किसे हासिल होता है. और अंत में घरेलू क्रिकेट. ईरानी कप 2022 का मैच चार दिन में ही खत्म हो गया, जिसमें शेष भारत एकादश ने पूर्व रणजी चैंपियन सौराष्ट्र को आठ विकेट से हरा दिया. यह कप उसने 29वीं बार जीता है. सौराष्ट्र के लिए पूरे मैच में अकेले कप्तान जयदेव उनादकट गेंद और बल्ले दोनों से संघर्ष करते नजर आए. जबकि रेस्ट ऑफ इंडिया के लिए मुकेश कुमार, सौरभ कुमार और कुलदीप सेन की गेंदबाजी जबर्दस्त रही. इसी तरह बल्लेबाजी में सरफराज खान और कप्तान हनुमा विहारी ने सौराष्ट्र के गेंदबाजों के पसीने छुड़ाए. मैच के दौरान शेष भारत के मयंक अग्रवाल को चोट लगी, जिसके बाद उनकी जगह दूसरी पारी में ‘कनकशन सब्सीट्यूट’ के रूप में प्रियांक पांचाल ने बल्लेबाजी की.

इधर महिलाओं की अंडर 19 टी20 ट्रॉफी प्रतियोगिता का ग्रुप चरण समाप्त होने की ओर है. कल आखिरी राउंड खेला जाएगा. अब तक के मुकाबलों में मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश, पंजाब और हरियाणा की टीमें सभी चारों मैच जीतकर अजेय हैं. साथ ही अब तक का एकमात्र शतक बिहार की याशिता सिंह ने जमाया है, जिसने चेन्नई में नगालैंड के खिलाफ 60 गेंदों पर नाबाद 138 रन की पारी खेली. इसमें 20 चौके और छह छक्के शामिल हैं.

वीनू मांकड़ अंडर 19 वनडे प्रतियोगिता भी आज से शुरू हो गयी है. छह ग्रुपों में इसके मैच नौ वेन्यू पर खेले जा रहे हैं. इसी तरह महिलाओं के सीनियर टी20 मुकाबले 11 अक्टूबर से छह वेन्यू पर होंगे. जबकि सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी के मैच 12 अक्टूबर से 38 टीमों के बीच पांच ग्रुपों में राजकोट, जयपुर, मोहाली, इंदौर और लखनऊ में शुरू होंगे. यानि डोमेस्टिक क्रिकेट अब उड़ान पर है. यह था, सप्ताह भर की क्रिकेट गतिविधियों पर आधारित पॉडकास्ट-सुनो दिल से. संजय बैनर्जी को अनुमति दीजिए नमस्कार.