Podcast: कहीं पर निगाहें-कहीं पर निशाना, सितारा क्रिकेटरों को IPL खेल टी20 वर्ल्ड कप में है जाना

  • September 24, 2021, 6:55 pm

Podcast Suno Dil Se: क्रिकेट में इस समय सबसे बड़ा आकर्षण आईपीएल 2021 है. यह लीग यूएई में खेली रही है, लेकिन लोगों की निगाहें उन सितारों पर लगी हुई हैं जो टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में भारत के लिए जोर आजमाइश करने वाले हैं.



नमस्कार! स्वागत! सप्ताह भर की क्रिकेट सरगर्मियों को समेटे हाजिर हूं मै संजय बैनर्जी. यूएई में खेला आईपीएल (IPL 2021) जा रहा है, लेकिन लोगों की निगाहें उन सितारों पर लगी हुई हैं जो टी20 वर्ल्ड कप (T20 World Cup) में भारत के लिए जोर आजमाइश करने वाले हैं. अलग-अलग फ्रेंचाइस के लिए इस सीजन मे भी बहुत कुछ दांव पर है, लेकिन खासकर इस सीजन के दूसरे दौर का महत्व इसलिए भी ज्यादा है क्योंकि इसके तुरंत बाद क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट का महाकुंभ शुरु होने वाला है. सभी देशों के वैसे खिलाड़ी जिन्हें वर्ल्ड कप की टीम मे शामिल किया गया है इसे एक अवसर के रूप मे देख रहे हैं और ज्यादा से ज्यादा लाभ उठाने की कोशिश में हैं.

आईपीएल की तीन टीमों चेन्नई सुपर किंग्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू पर सभी की निगाहें रहती हैं. इनमें से दो विराट कोहली की आरसीबी और महेंद्र सिंह धोनी की सीएसके की आज भिड़ंत है. पिछले सीजन मे लगातार विवादों मे कायम रहने और बेहद कमजोर प्रदर्शन के बाद चेन्नई इस बार पॉइंट्स टेबल मे दूसरे नंबर पर है, और आज की जीत उसे प्लेऑफ की दहलीज तक पहुंचा देगी. आरसीबी ने भी सीजन की धमाकेदार शुरुआत की और पहले चारों मैच जीते, लेकिन अब वो फिर पटरी से फिसलते दिखाई दे रहे हैं, पिछले चार मे न सिर्फ यह टीम 3 मैच हारी है बल्कि पिछला मैच जिस तरह से हारी है, वह निराश करने वाला है. यही हाल मुंबई का भी है, मुंबई की टीम दूसरे चरण में लगातार दूसरा मैच हारकर अब छठे नंबर पर है. एक और हार पांच बार खिताब जीतने वाली इस टीम को प्लेऑफ मे पहुंचने से रोक सकती है.

ऐसा लगता है कि इस सीजन चार टीमों की किस्मत तकरीबन तय हो चुकी है, और प्लेऑफ के दो स्थानों के लिए संघर्ष चार टीमों के बीच है. दिल्ली 14 और चेन्नई 12 पॉइंट्स के साथ अगले दौर मे प्रवेश लगभग तय कर चुके हैं. संराइजर्स हैदराबाद और पंजाब किंग्स के लिए अब अगला दौर तकरीबन असंभव सा दिखाई देता है, ऐसे में अब टसल आरसीबी, केकेआर, राजस्थान रॉयल्स और मुंबई इंडियंस के बीच सिमट कर रह गई है.

आईपीएल में आशा निराशा के झूले मे झूलते खिलाड़ियों के प्रदर्शन मे एक खिलाड़ी ने सभी को चौंका दिया है. कोलकाता के डेब्यूटंट वेंकटेश अय्यर की दो पारियों ने उन्हें दूसरे दौर में सुपर स्टार बना दिया है. वेंकटेश ने मुंबई इंडियंस के खिलाफ सिर्फ 30 गेंदों मे 53 और इससे पहले आरसीबी के खिलाफ 27 गेंदों पर नाबाद 41 रन बना डाले.

इसके अलावा ऋतुराज गायकवाड हो या शुभमन गिल, यशस्वी जायसवाल हो या फिर ऋषभ पंत-हर किसी ने अब तक बल्ले से कमाल किया है. शिखर धवन, लोकेश राहुल और मयंक अग्रवाल ने भी युवाओं के पसीने छुडाए हैं. गेंदबाजी में दीपक चाहर, वरुण चक्रवर्ती और अर्शदीप सिंह ने भारतीय खिलाड़ियों के बीच खुद को असरदार साबित किया है. आरसीबी की भी कप्तानी अगले सीजन से छोड़ने की घोषणा के बाद विराट केकेआर के खिलाफ बतौर ओपनर उतरे और केवल 5 रन ही बना सके. यानि उनका बल्ला अभी भी खामोश है.

आईपीएल कई कहानियां लेकर आता है. कई बार लोकेश राहुल भी इन कहानियों के पात्र होते हैं. बढ़िया खेलने के बावजूद वह अपनी टीम पंजाब किंग्स को जीत नहीं दिला पाते. राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ जब राहुल की टीम जीतने के करीब थी तब वे अंतिम ओवर में जरूरी चार रन नहीं बना सके. 20 साल के कार्तिक त्यागी ने एक रन देकर दो विकेट झटक लिए और पंजाब किंग्स दो रन से मैच हार गए. हालांकि इस मैच में लोकेश राहुल ने 33 गेंदों पर 49 बनाए. मयंक अग्रवाल ने भी 67 रन का योगदान किया. अर्शदीप सिंह ने इससे पहले राजस्थान के पांच विकेट अकेले केवल 32 रन देकर झटक लिए थे.

आपको याद होगा पिछले पखवाड़े भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ पांचवां टेस्ट इसलिए खेलने से इनकार कर दिया था, क्योंकि भारतीय खेमे में कोरोना संक्रमण के कुछ मामले आए थे. अब आईपीएल में भी कोरोना के केस आ गए हैं. सनराइजर्स हैदराबाद के तेज गेंदबाज टी. नटराजन पॉजिटिव पाए गए हैं. साथ ही टीम के कुछ स्टाफ और क्रिकेटर विजय शंकर को एहतियातन क्वारंटाइन में जाना पड़ा है. उम्मीद की जानी चाहिए कि यह सुचारु तरीके से सम्पन्न हो जाए क्योंकि इसका असर वर्ल्ड कप पर भी पड़ सकता है.

इस बीच भारतीय टीम के कोच के लिए कई नाम सामने आ रहे हैं. रवि शास्त्री टी-20 वर्ल्ड कप के बाद कोच पद छोड़ देंगे. अनिल कुंबले, विक्रम राठौर, वीवीएस लक्ष्मण, माइक हेसेन और माहेला जयवर्धने के नाम चर्चा में तैर रहे हैं.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज