T20 World Cup: भारत वाले ग्रुप में नई टीम की इंट्री, आज का मैच तय करेगा सुपर-12 का फाइनल शेड्यूल

  • October 22, 2021, 1:13 pm

Suno Dil Se: आईसीसी टी-20 विश्व कप में भारत और स्कॉटलैंड अब एक ही ग्रुप में होंगे. वहीं, अपना पहला विश्व कप खेल खेलने वाली पापुआ न्यू गिनी प्रतिस्‍पर्धा से बाहर होने वाली सबसे पहली टीम बन गई है. इस बीच, आयरलैंड के क्रिस कैंफर की गेंदबाजी भी कमाल की रही, जिसने हैट्रिक समेत चार विकेट लिए थे. उम्‍मीद है कि सुपर 12 का दूसरा दिन शायद इस टूर्नामेंट का सबसे बड़ा दिन होगा, क्योंकि उस दिन दो चिरपरिचित प्रतिद्वंदी भारत और पाकिस्तान एक दूसरे के आमने सामने होंगे.



मस्कार, सप्ताह भर की क्रिकेट सरगर्मियों को लेकर इस पोडकास्ट के साथ मै हूँ संजय बैनर्जी, स्वागत आप सभी का “सुनो दिल से”

आईसीसी टी-20 विश्व कप के शुरुआती दौर मे नियमित रूप से टेस्ट खेलने वाले दो देशों को अब राहत की सांस मिली होगी. बांग्लादेश तो पहले मैच मे स्कॉटलैंड से हारने के बाद आखिर सुपर 12 मे पहुंच गया, श्रीलंका का मुकाबला आज नीदरलैंड से है और उसका भी अगले दौर मे जाना तय है. स्कॉटलैंड क्वालिफ़ाई कर चुका है और आयरलैंड की संभावनाए बेहतर हैं. यानि आज सुपर 12 का पूरा ढांचा अंतिम रूप ले लेगा. कल बांग्लादेश ने पापुआ न्यू गिनी को और स्कॉटलैंड ने ओमान को हराया था. स्कॉटलैंड अब भारत के साथ वाले ग्रुप में शामिल हो गया है.

पापुआ न्यू गिनी ने अपना पहला विश्व कप खेला, लेकिन वह बाहर होने वाली सबसे पहली टीम भी बनी. अब तक के प्रदर्शन से एसोसिएट देशों के कुछ स्टार उभरकर सामने आए हैं. स्कॉटलैंड के क्रिस ग्रीव्स ने केवल 28 गेंदों पर 45 रन बनाने के अलावा दो विकेट भी लिए. उनके प्रदर्शन के बल पर सबसे बड़ा उलटफेर भी पहले ही दिन देखने को मिला, जब स्कॉटलैंड ने बांग्लादेश को छह रन से हरा दिया था. स्कॉटलैंड के एक अन्य खिलाड़ी रिची बेरिंगटन ने भी 49 गेंदों पर 70 रन बनाकर एक और जीत का आधार दिया था.

आयरलैंड के क्रिस कैंफर की गेंदबाजी भी कमाल की रही, जिसने हैट्रिक समेत चार विकेट लिए थे. उनको चारों विकेट लगातार चार गेंदों पर मिले थे. क्रिकेट के सबसे छोटे फॉर्मेट में यह कारनामा काबिले गौर है. पहली बार वर्ल्ड कप खेलने वाले नामीबिया जरूर पहले मैच में श्रीलंका से हार गया, लेकिन दूसरे मैच में नीदरलैंड के खिलाफ जीत में डेविड वीज का प्रदर्शन लाजवाब रहा. उन्होंने केवल 40 गेंदों पर पांच छक्के की मदद से नाबाद 66 रन बनाकर नामीबिया को हार रहे मैच में जीत दिला दी.

सह मेजबान ओमान ने पहले दिन पापुआ न्यू गिनी को हराकर अच्छी शुरुआत की थी. भारत और पाकिस्तान से जाकर ओमान में बसे जतिंदर सिंह और आकिब इल्यास ने बिना विकेट खोये ही ओमान को दस विकेट से जीत का स्वाद चखाया था. पर ओमान बाद के दोनों मैच हार गया और तीसरे स्थान पर रहते हुए बाहर हो गया. कल से विश्व कप की असली जंग यानि सुपर 12 शुरू हो रहे हैं, पहले ही मैच मे कभी भी खिताब न जीतने वाले और दुनिया की सबसे मजबूत टीमों मे से एक मानी जाने वाली ऑस्ट्रेलिया का मुकाबला दक्षिण अफ्रीका से होगा.

दिलचस्प यह कि ऑस्ट्रेलिया लगातार 5 टी-20 सीरीज हारकर विश्व कप मे उतरा है, जबकि दक्षिण अफ्रीका ने पिछली तीन सीरीज़ मे जीत दर्ज की है. हालाकि इसके बावजूद ऑस्ट्रेलिया का पलड़ा कमजोर नहीं दिखता, अच्छा यह कि इस बार ज्यादातर औसट्रेलियाई खिलाड़ी चोटों से उबर चुके हैं और ऑस्ट्रेलिया अपनी पूरी क्षमता से उतर रहा है. दूसरे मुकाबले मे इंग्लैंड के सामने चैम्पियन वेस्टइंडीज की टीम होगी. इंग्लैंड के कप्तान ओएन मॉर्गन अभी आईपीएल मे अपनी टीम कोलकाता नाइट राइडर्स को फाइनल तक ले कर गए हैं, इसलिए उनसे भी एक बेहतर शुरुआत की उम्मीदें हैं, हालाकि जोफ्रा आर्चर और बेन स्टोक्स की गैरमौजूदगी इस टीम को खल सकती है.

सुपर 12 का दूसरा दिन शायद इस टूर्नामेंट का सबसे बड़ा दिन होगा, क्योंकि उस दिन दो चिरपरिचित प्रतिद्वंदी भारत और पाकिस्तान एक दूसरे के आमने सामने होंगे. इससे पहले आईसीसी वर्ल्ड कप मे भारत ने हर बार पाकिस्तान को धूल चटाई है, क्या इस बार भी यह सिलसिला कायम रह पाएगा. दोनों देशों के बीच फिलहाल द्विपक्षीय टक्कर की कोई संभावना नजर नहीं आती, ऐसे मे कोई आईसीसी ईवेंट ही एक दूसरे की ताकत नापने का इकलौता पैमाना हो सकता है. कहने की जरूरत नहीं की अब तक यह पैमाना भारत के हक मे पूरी तरह झुका रहा है.

इस बीच सभी देशों ने वार्मअप मैच के जरिये न सिर्फ अपनी कमियां दूर करने की कोशिश की बल्कि अपनी रणनीति को भी अंतिम रूप दिया. भारत ने दो अभ्यास मैचों में जिस तरह इंग्लैंड और आस्ट्रेलिया को हराया, उससे जरूर टीम की तैयारी का अंदाजा लगता है. इंग्लैंड ने जब 188 का स्कोर खड़ा किया, तब लगा कि भारतीय टीम इसे पार नहीं कर पाएगी. लेकिन बल्लेबाजों ने इसे पीछे छोड़ दिया. गेंदबाजी की इस कमजोरी को भारत ने अगले ही मैच मे दुरुस्त कर लिया और आस्ट्रेलिया को 152 रन पर ही रोक दिया.

आस्ट्रेलिया के खिलाफ मोहम्मद शमी और जसप्रीत बुमराह के बगैर टीम खेली और जीत गई. यह भी दिखाई दिया कि हार्दिक पंड्या शायद गेंदबाजी के लिए अब भी फिट नहीं हैं. उनसे दोनों मैचों में गेंदबाजी नहीं कराई गई. इसके विपरीत अश्विन ने दूसरे मैच में असरदार प्रदर्शन किया. आस्ट्रेलिया के खिलाफ रोहित शर्मा ने कप्तानी पारी खेली और विराट कोहली उनके अंडर में खेले. यह भी एक रणनीति का हिस्सा था, क्योंकि वर्ल्ड कप के बाद रोहित ही टी-20 में भारत के संभावित कप्तान हैं. विराट ने भी गेंदबाजी की.

बल्लेबाजी ही भारत की मजबूती है और इन अभ्यास मैचों मे लोकेश राहुल, ईशान किशन, रोहित शर्मा, ऋषभ पंत, सूर्यकुमार यादव और यहां तक कि हार्दिक पंड्या ने भी खुलकर हाथ दिखाये. वार्मअप मैच से पहले कहा गया था कि भारत अपनी बैटिंग लाइनअप को परखेगा. विराट को छोड़कर जो भी खेले, खुलकर खेले. यानि भारत ने वर्ल्ड कप से पहले हर तरह से खुद को ठोक बजा कर देख लिंया है और निश्चित तौर पर उसका शुमार खिताब के प्रबल दावेदार की तरह है.

अभ्यास मैचों मे पाकिस्तान को वेस्टइंडीज के खिलाफ जीत मिली तो दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध शिकस्त से दो चार होना पड़ा. बहरहाल तमाम टीमों के लिए यह अपने ढीले तारों को कसने का शानदार मौका था, और ज्यादातर टीमों ने इसका बेहतर इस्तेमाल किया.

इस समय आठ भारतीय महिला क्रिकेटर आस्ट्रेलिया की आठ टीमों वाली बिग बैश लीग में खेल रही हैं. इसका अगला राउंड कल से खेला जाएगा, लेकिन अब तक हुए मुकाबलों में होबार्ट से खेल रही रिचा घोष, मेलबर्न के लिए हरमनप्रीत कौर और सिडनी के लिए शेफाली वर्मा ने अपना स्ट्राइक रेट सौ के आसपास रखा है. शेफाली ने तो एक अर्धशतक भी जमाया है. गेंदबाजी में ब्रिसबेन के लिए खेल रही पूनम यादव के नाम अब तक दो मैचों में चार विकेट हैं.

इधर भारत का घरेूल क्रिकेट का अगला मुकाबला 28 अक्टूबर से सीनियर महिला एकदिवसीय टूर्नामेंट के रूप में शुरू होगा. वैसे पिछले हफ्ते अंडर 19 महिला वनडे का खिताब मध्य प्रदेश को हराकर उत्तराखंड ने जीता. इसी तरह अंडर 19 पुरुष वीनू मांकड वनडे टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला महाराष्ट्र को हराकर हरियाणा ने अपने नाम कर लिया.

तो बस आज के इस पोडाकस्ट मे इतना ही, अगले हफ्ते क्रिकेट जगत से जुड़ी तमाम हलचल समेटे मै संजय बैनर्जी फिर हाजिर होऊँगा, तब तक अपना खयाल रखिए और चलते रहिए न्यूज़ 18 के साथ, नमस्कार

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज