अपना शहर चुनें

States

IND vs AUS Podcast: भारत को ब्रिस्बेन में करनी है एवरेस्ट की चढ़ाई, सिडनी दे रहा हौसला

  • January 14, 2021, 10:36 am
नई दिल्ली. भारत और ऑस्ट्रेलिया (India vs Australia) के बीच सिडनी में खेला गया टेस्ट मैच बेनतीजा रहा. रिकॉर्ड बुक में यह हमेशा एक ड्रॉ के रूप में दर्ज रहेगा, लेकिन भारतीय क्रिकेटप्रेमियों के जेहन में यह जीत से कम नहीं होगा. भारत ने सिडनी में जिस तरह से ऑस्ट्रेलिया से तय जीत छीनी, उसने मेहमान टीम का हौसला बढ़ा दिया है. अब दोनों टीमों के बीच ब्रिस्बेन में 15 जनवरी से चौथा टेस्ट मैच खेला जाएगा. न्यूज18 के स्पेशल पॉडकास्ट ‘स्पोर्ट्स बुलेटिन- सुनो दिल से’ (Sports Bulletin Suno Dil Se) में संजय बैनर्जी इस मैच और भारत-ऑस्ट्रेलिया सीरीज (India vs Australia 2020) पर रोचक जानकारियां लेकर आए हैं.

भारत ने चोटिल खिलाड़ियों की लंबी लिस्ट के बावजूद सिडनी में साहसिक प्रदर्शन करते हुए मैच ड्रॉ कराया. भारतीय क्रिकेटप्रेमी ब्रिस्बेन में खेले जाने वाले चौथे टेस्ट मैच में भी अपनी टीम से ऐसे ही प्रदर्शन की उम्मीद कर रहे हैं. हालांकि, भारतीय टीम की मुश्किलें यहां बढ़ गई हैं. उसके कई और खिलाड़ी चोटिल होकर टीम से बाहर हो चुके हैं.

भारत के सामने दूसरी चुनौती ब्रिस्बेन का रिकॉर्ड पेश कर रहा है. भारत ने यहां कभी भी टेस्ट मैच नहीं जीता है. ऑस्ट्रेलिया यहां 1988 के बाद से कभी नहीं हारा है. यानी, भारत को यहां जीतने के लिए कुछ वैसा ही प्रदर्शन करना होगा, जैसे उसके सामने एवरेस्ट है और उसे चोटी फतह करनी है.


भारतीय टीम ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर अपना पहला ही टेस्ट मैच हार गई थी. उसने विदेश में पहला टेस्ट हारने के बाद कभी भी सीरीज नहीं जीती है. इस बार भारतीय टीम के पास यह रिकॉर्ड तोड़ने का मौका है. हालांकि, उसकी राह आसान नहीं दिख रही है. फिलहाल सीरीज तीन मैचों के बाद 1-1 की बराबरी पर है.

यह भी पढ़ें: अजहरुद्दीन के तूफानी शतक ने रचा इतिहास, याद आए रोहित शर्मा और ऋषभ पंत

भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर अपने प्रदर्शन से चौंकाया है. वह एडिलेड में खेले गए पहले टेस्ट मैच में महज 36 रन पर आउट हो गई थी. उसी भारतीय टीम ने तीसरे टेस्ट मैच में सिडनी में चौथी पारी में 131 ओवर बैटिंग कर मैच ड्रॉ करा लिया. वह भी तब जब उसके कई खिलाड़ी चोटिल थे. भारत ने अगर वही हौसला दिखाया तो कोई आश्चर्य नहीं कि वह ब्रिस्बेन में ऑस्ट्रेलिया को पटकनी दे दे. ये खबर आप न्यूज 18 में पढ़ रहे हैं. इसे विस्तार से सुनने के लिए हिंदी डॉट न्यूज18 डॉट कॉम के पॉडकास्ट पर जाएं.

LIVE Now

    फोटो

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    चिंता के विचार आपकी ख़ुशी को बर्बाद कर सकते हैं। ऐसा न होने दें, क्योंकि इनमें अच्छी चीज़ों को ख़त्म करने की और समझदारी में निराशा का ज़हरीला बीज बोने की क्षमता होती है। ख़ुद को हमेशा अच्छा परिणाम पाने के लिए प्रोत्साहित करें और ख़राब हालात में भी कुछ-न-कुछ अच्छा देखने का गुण विकसित करें। ख़ास लोग ऐसी किसी भी योजना में रुपये लगाने के लिए तैयार होंगे, जिसमें संभावना नज़र आए और विशेष हो। भूमि से जुड़ा विवाद लड़ाई में बदल सकता है। मामले को सुलझाने के लिए अपने माता-पिता की मदद लें। उनकी सलाह से काम करें, तो आप निश्चित तौर पर मुश्किल का हल ढूंढने में क़ामयाब रहेंगे। किसी से अचानक हुई रुमानी मुलाक़ात आपका दिन बना देगी। काम के लिए समर्पित पेशेवर लोग रुपये-पैसे और करिअर के मोर्चे पर फ़ायदे में रहेंगे। सफ़र के लिए दिन ज़्यादा अच्छा नहीं है। जीवनसाथी के ख़राब व्यवहार का नकारात्मक असर आपके ऊपर पड़ सकता है। स्वयंसेवी कार्य या किसी की मदद करना आपकी मानसिक शांति के लिए अच्छे टॉनिक का काम कर सकता है। परेशान? आप पंडित जी से प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें

    टॉप स्टोरीज