प्रो कबड्डी पॉइंट टेबल 2021-22 पॉइंट टेबल

रैंक टीमें खेले जीते हारे टाई स्कोर अंतर पॉइंट

1

बेंगलुरू बुल्सबेंगलुरू बुल्स 15 8 6 1 42 46

2

दबंग दिल्ली केसीदबंग दिल्ली केसी 13 7 4 2 -18 43

3

हरियाणा स्टीलर्सहरियाणा स्टीलर्स 14 6 5 3 -22 42

4

यू मुंबायू मुंबा 13 5 3 5 10 41

5

बंगाल वारियर्सबंगाल वारियर्स 14 7 6 1 -11 41

6

पटना पायरेट्सपटना पायरेट्स 11 7 3 1 44 40

7

यूपी योद्धायूपी योद्धा 13 5 5 3 17 39

8

जयपुर पिंक पैंथर्सजयपुर पिंक पैंथर्स 13 5 6 2 -24 35

9

तमिल थलाइवाजतमिल थलाइवाज 12 3 3 6 16 34

10

पुणेरी पलटनपुणेरी पलटन 13 6 7 0 -8 32

11

गुजरात जायंट्सगुजरात जायंट्स 11 3 5 3 5 28

12

तेलुगू टाइटंसतेलुगू टाइटंस 14 1 10 3 -51 22

लेटेस्ट अपडेट

प्रो कबड्डी लीग Pro-Kabaddi League season) का सीजन लंबा होता है. लीग में 12 टीमें उतरती हैं. ऐसे में सभी को 22-22 मुकाबले खेलने को मिलते हैं. हर टीम को जीतने पर 5 अंक मिलते हैं जबकि ड्रॉ ( PKL Match Draw) पर 3 अंक दिए जाते हैं. अगर कोई टीम मुकाबला 7 या उससे कम अंक से हारती है तो उसे एक अंक मिलते हैं. प्वाइंट सिस्टम ( PKL Point System) पहले ही सीजन ( Pro-Kabaddi Season 1) से ऐसा ही रखा गया है. पिछले सीजन ( PKL Season 7 ) की बात की जाए तो कोई भी टीम 100 अंक तक नहीं पहुंच सकी थी. 2 टीमों को 80 से अधिक अंक मिले थे. दबंग दिल्ली (PKL Dabang Delhi KC) की टीम 85 अंक के साथ पॉइंट टेबल (Pro-Kabaddi Points Table) में टॉप पर रही थी. वहीं बंगाल वॉरियर्स (PKL Bengal Warriors) को 83 अंक मिले थे. 7 से कम अंक से हारने पर भी टीमों को एक अंक मिलते हैं. यह कई बार टीमों के लिए बेहद अहम रहता है. पिछली बार नंबर-3 से नंबर-5 टीमों के बीच सिर्फ 3 अंक का अंतर था. 2 टीमों ने तो बराबर मुकाबले हारे थे. इसके बाद भी एक टीम एक अंक की बढ़त बनाने में कामयाब रही थी. इससे आपकी रैंकिंग ( Pro-Kabaddi Ranking )में फायदा मिलता है.