होम » शो »हम तो पूछेंगे

HTP : क्या हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा वापस लेने का केन्द्र सरकार का फ़ैसला सही है?

February 21, 2019, 11:31 pm

हिन्दुस्तान का खाना और पाकिस्तान का गाना गाने वालों पर केन्द्र सरकार का शिकंजा कसता जा रहा है. पुलवामा आतंकी हमले के बाद केन्द्र सरकार ने हुर्रियत के 18 नेताओं के अलावा 155 अलगाववादी नेताओं की सरकारी सुरक्षा और दूसरी सुविधाएँ वापस ले ली. अब तक हुर्रियत के 22 नेताओं की सुरक्षा वापस ली जा चुकी है. अलगाव और देशद्रोह का राग अलापने, मासूम युवाओं को भड़काने और सरकारी सम्पत्तियों को नुक़सान पहुँचाने वालों का सुरक्षा कवच छीनकर सरकार ने एक संदेश दे दिया है, देश विरोधी गतिविधियाँ बर्दाश्त नहीं की जाएँगी. ये जानकर आप हैरान हो जाएँगे कि जो लोग तीन दशक से देश विरोधी और अलगाववादी गतिविधियों में लिप्त हैं. उन पर सरकार ने बीते पांच साल में 560 करोड़ रुपये खर्च कर डाले.

प्रीति रघुनंदन
Latest Live TV Switch to Regional Shows

LIVE Now

    Loading...