राज्य

पहले तलाक़ लिखकर दिया, फिर कोर्ट में न्याय मांगने पर पत्नी को बेरहमी से पीटा

पति द्वारा तीन बार तलाक दिए जाने से परेशान महिला ने जब न्याय की आस में अदालत की शरण ली, तो ससुराल वालों ने उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 25, 2017, 12:14 PM IST
ETV UP/Uttarakhand
Updated: April 25, 2017, 12:14 PM IST
यूपी के बहराइच से तलाक़ और मारपीट का मामला सामने आया है. बीवी को क्या पता था कि वह जिसका हाथ थामकर मायके से ससुराल में आ गई, वही शौहर तीन बार कागज के पन्ने पर तलाक़ लिख देगा. फिर जब उसने इंसाफ के लिये अदालत के दरवाजे पर दस्तक दी, तो मुकदमा वापस लेने के लिये ससुरालवालों ने मायके में आकर उसकी बेरहमी से पिटाई कर दी. बचाने को मां आगे आयी, तो उन लोगों ने उन्हें भी पीटा.
कोतवाली नानपारा क्षेत्र के मेहरबान नगर निवासी मो. रशीद ने अपनी बेटी गुलशन जहां की शादी 2010 में कोतवाली देहात क्षेत्र के धन्नीपुरवा निवासी अब्दुल रहमान के साथ की और दहेज भी दिया था. लेकिन दहेज की मांग बढ़ती गयी और वह डीसीएम की मांग करने लगा. पत्नी को परेशान करने लगा, फिर मायके पहुंचा दिया.



तमाम कोशिशों के बावजूद वह पत्नी को नहीं ले गया. न्याय की गुहार लगाते हुए 2013 में पिता ने लड़की के ससुरालवालों पर दहेज उत्पीड़न का मुकदमा कर दिया.

इसके बाद लड़की के परिवार पर सुलह का दबाव बनाया जाने लगा. लड़की के इंकार करने पर बेरहमी पीटा गया. पीड़िता ने घटना के सम्बन्ध में पुलिस को तहरीर दी है.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...