राज्य

उत्तराखंड में रिकॉर्ड तोड़ वोटिंग के दावों की निकली हवा!

उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव में रिकॉर्ड तोड़ मतदान के दावे की हवा निकलती दिख रही है. 15 फरवरी को मतदान के बाद मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दावा किया था कि उत्तराखंड में रिकार्ड तोड़ करीब 70 फीसदी मतदान हुआ है. मंगलवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक विधानसभा चुनाव में 65.64 फीसदी वोटिंग हुई है. यह आंकड़ा 2012 के विधानसभा चुनाव से करीब डेढ़ फीसदी कम है. इस बाबत जब मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने इस पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया.

ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 21, 2017, 5:44 PM IST
उत्तराखंड में रिकॉर्ड तोड़ वोटिंग के दावों की निकली हवा!
Demo Pic
ETV UP/Uttarakhand
Updated: February 21, 2017, 5:44 PM IST
उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव में रिकॉर्ड तोड़ मतदान के दावे की हवा निकलती दिख रही है. 15 फरवरी को मतदान के बाद मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने दावा किया था कि उत्तराखंड में रिकार्ड तोड़ करीब 70 फीसदी मतदान हुआ है. मंगलवार को जारी आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक विधानसभा चुनाव में 65.64 फीसदी वोटिंग हुई है. यह आंकड़ा 2012 के विधानसभा चुनाव से करीब डेढ़ फीसदी कम है. इस बाबत जब मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी से बात करने की कोशिश की गई तो उन्होंने इस पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया.

निर्वाचन आयोग से आज जारी हुए आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक उत्तराखंड विधानसभा चुनाव में 65.64 फीसदी मतदान हुआ है. आयोग के मुताबिक उत्तराखण्ड विधानसभा चुनाव-2017 में कुल 4870879 (48 लाख 70 हजार 889) मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया. जिसमें 2449844 महिलाएं, 2421019 पुरूष और 16 थर्ड जेंडर मतदाता सम्मिलित हैं. वर्ष 2012 में मतदान 67.22 प्रतिशत मतदान हुआ था. इस बार घट कर यह 65.64 प्रतिशत रह गया है. परन्तु वर्ष 2012 तुलना में कुल मतदाताओं की संख्या में 650954 की बढ़तोरी जरूर हुई है. यदि 2007 के आकड़ों से तुलना करें तो 10 वर्ष में कुल 1327899 अधिक मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया है. वर्ष 2007 एवं 2012 के आंकड़ों में कर्णप्रयाग विधानसभा के आंकड़ें भी सम्मिलित हैं. वर्ष 2017 में कुल 69.34 प्रतिशत महिलाओं और 62.28 प्रतिशत पुरूष मतदाताओं ने मताधिकार का प्रयोग किया.
2007 में मतदाता सूची में कुल मतदाता 5985302 (70 विधानसभा क्षेत्र), 2012 में 6277956 (70 विधानसभा क्षेत्र) मतदाता और 2017 में 7420710 (69 विधानसभा क्षेत्र) मतदाता दर्ज हैं.

जिलेवार मतदान

जिलेवार कुल मतदान प्रतिशत पर नजर डाले तो उत्तरकाशी में 68.29 प्रतिशत (63.69 प्रतिशत पुरूष एवं 73.21 प्रतिशत महिलाएं), चमोली में 60.51 प्रतिशत (55.41 प्रतिशत पुरूष एवं 65.96 प्रतिशत महिलाएं), रूद्रप्रयाग में 61.46 प्रतिशत(52.61 प्रतिशत पुरूष एवं 70.25 प्रतिशत महिलाएं), टिहरी गढ़वाल में 55.40 प्रतिशत(46.76 प्रतिशत पुरूष एवं 64.62 प्रतिशत महिलाएं), देहरादून में 63.45 प्रतिशत(61.27 प्रतिशत पुरूष एवं 65.93 प्रतिशत महिलाएं), हरिद्वार में 75.69 प्रतिशत(75.32 प्रतिशत पुरूष एवं 76.14 प्रतिशत महिलाएं), पौड़ी गढ़वाल में 54.95 प्रतिशत(48.52 प्रतिशत पुरूष एवं 61.63 प्रतिशत महिलाएं), पिथौरागढ़ में 60.58 प्रतिशत(56.64 प्रतिशत पुरूष एवं 64.52 प्रतिशत महिलाएं), बागेश्वर में 61.23 प्रतिशत(52.53 प्रतिशत पुरूष एवं 70.18 प्रतिशत महिलाएं), अल्मोड़ा में 52.81 प्रतिशत(45.20 प्रतिशत पुरूष एवं 60.69 प्रतिशत महिलाएं), चम्पावत में 61.66 प्रतिशत(53.37 प्रतिशत पुरूष और 70.81 प्रतिशत महिलाएं), नैनीताल में 66.77 प्रतिशत(64.96 प्रतिशत पुरूष और 68.80 प्रतिशत महिलाएं) और ऊधमसिंह नगर में 75.79 प्रतिशत (74.46 प्रतिशत पुरूष और 77.30 प्रतिशत महिलाएं) मतदान दर्ज किया गया है.

इस प्रकार ऊधमसिंह नगर 75.79 प्रतिशत के साथ सर्वाधिक मतदान प्रतिशत वाला जनपद तथा अल्मोड़ा 52.81 प्रतिशत के साथ न्यूनतम मतदान प्रतिशत वाला जनपद है.

सर्वाधिक मतदान वाली विधानसभाओं में लक्सर 81.87 प्रतिशत, हरिद्वार ग्रामीण 81.69 प्रतिशत, पिरान कलियर 81.43 प्रतिशत, सितारगंज 81.21 प्रतिशत, गदरपुर 80.71 प्रतिशत प्रमुख है. न्यूनतम मतदान वाली विधानसभाओं में सल्ट 45.74 प्रतिशत, चैबट्टाखाल 46.88 प्रतिशत, लैन्सडाउन 47.95 प्रतिशत, घनसाली 48.79 प्रतिशत प्रमुख है. प्रदेश में कुल 10685 मतदान केन्द्रों में 07 मतदान केन्द्रों पर शून्य मतदान, तीन मतदान केन्द्रों में 1 से 10 प्रतिशत, 5 मतदान केन्द्रों में 11 से 20 प्रतिशत, 18 मतदान केन्द्रों में 21 से 30 प्रतिशत, 152 मतदान केन्द्रों में 31 से 40 प्रतिशत, 1146 मतदान केन्द्रों में 41 से 50 प्रतिशत, 2506 मतदान केन्द्रों में 51 से 60 प्रतिशत, 2896 मतदान केन्द्रों में 61 से 70 प्रतिशत, 2336 मतदान केन्द्रों में 71 से 80 प्रतिशत, 1406 मतदान केन्द्रों में 81 से 90 प्रतिशत तथा 170 मतदान केन्द्रों में 90 प्रतिशत से अधिक मतदान हुआ है.
Loading...
उत्तरकाशी के पुरोला में 04, पिथौरागढ़ के गंगोलीहाट में 01, अल्मोड़ा के सोमेश्वर एवं अल्मोड़ा में 01-01 मतदान केन्द्रों पर शून्य मतदान हुआ है. हरिद्वार में पिरान कलियर के 64-हलवेहेरी मतदान केन्द्र में 99.21 प्रतिशत मतदान अधिकतम तथा नैनीताल में भीमताल के 19-कौंता मतदान केन्द्र में 01.35 प्रतिशत न्यूनतम मतदान दर्ज हुआ है.

15 फरवरी को चुनाव संपन्न होने के बाद मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी ने मीडिया से रूबरू होते हुए  करीब 70 फीसदी मतदान का दावा किया था. अब जब आधिकारिक आंकड़े उपलब्ध हैं तो यह आंकड़ा 65.64 प्रतिशत रहा.  इस बाबत मुख्य निर्वाचन अधिकारी राधा रतूड़ी से नेटवर्क 18 संवाददाता ने बात करनी चाही तो उन्होंने इस पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया.
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर