OMG! रिवर्स गियर में भागती है इनकी कार

OMG11:32 AM IST Sep 12, 2017

भारत में रंग-रंगीले लोग रहते हैं. उनके तरह-तरह के अतरंगी और अजूबे कारनामों को जानने के बाद आप भी कहेंगे OMG! ये मेरा इंडिया. पंजाब में भटिंडा के रहने वाले हरप्रीत देव की बाजीगरी भी किसी अजूबे से कम नहीं है. हरप्रीत देव पिछले 12 सालों से बैक गियर में गाड़ी चला रहे हैं. हरप्रीत के गाड़ी उल्टी चलाने के पीछे एक दिलचस्प किस्सा है. वो बताते हैं कि एक बार सफर पर कहीं गये हुए थे. उसी दौरान उनकी गाड़ी खराब हो गई और बैक गियर में फंस गई. गाड़ी जहां खराब हुई थी, आसपास में कोई मैकेनिक भी नहीं था. जिसके बाद वो काफी परेशान हो गये. कोई उपाय न होते देख, उन्होंने फैसला किया कि वो गाड़ी को बैक गियर में चलाएंगे. ये काफी खतरनाक फैसला था, लेकिन देव को पास कोई विकल्प भी नहीं था. इस घटना के बाद उनको लगा कि वो बैक गियर में गाड़ी को आराम से चला सकते हैं और अब तो वो बड़े कांफिडेंस के साथ बैक गियर में गाड़ी ड्राइव करते हैं. हरप्रीत अब तक करीब 65 हजार किलोमीटर गाड़ी बैक गियर में चला चुके हैं. इनकी कार में केवल एक फ्रंट गियर है और चार रिवर्स गियर. हरप्रीत ने मैक्निक की सहायता से खुद ही अपनी स्पेशल गाड़ी तौयार की है. अपने इस टैलेंट को आगे बढ़ाने उन्होंने एक बैक गियर ड्राइविंग स्कूल भी खोला है, जहां वे रिवर्स गियर की खूबियां बताते हैं. भटिंडा शहर में जब भी वो गाड़ी लेकर निकलते हैं तो लोग उन्हें बैक गियर में गाड़ी चलाते देखकर हैरान रह जाते हैं. हरप्रीत 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार में रिवर्स गाड़ी चला चुके हैं. हरप्रीत देव के इस कारनामे को वर्ल्ड यूनिक रिकॉर्ड और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड ने भी सलाम किया है और उनका नाम अपने पन्ने में दर्ज किया. हरप्रीत देव के साथ उनकी पत्नी के पास भी एक अनोखी कला है. उनकी पत्नी अंग्रेजी और पंजाबी रिवर्स लिखती है. यानी पति रिवर्स गाड़ी चलाते हैं और पत्नी रिवर्स राइटिंग करती है.

news18 hindi

भारत में रंग-रंगीले लोग रहते हैं. उनके तरह-तरह के अतरंगी और अजूबे कारनामों को जानने के बाद आप भी कहेंगे OMG! ये मेरा इंडिया. पंजाब में भटिंडा के रहने वाले हरप्रीत देव की बाजीगरी भी किसी अजूबे से कम नहीं है. हरप्रीत देव पिछले 12 सालों से बैक गियर में गाड़ी चला रहे हैं. हरप्रीत के गाड़ी उल्टी चलाने के पीछे एक दिलचस्प किस्सा है. वो बताते हैं कि एक बार सफर पर कहीं गये हुए थे. उसी दौरान उनकी गाड़ी खराब हो गई और बैक गियर में फंस गई. गाड़ी जहां खराब हुई थी, आसपास में कोई मैकेनिक भी नहीं था. जिसके बाद वो काफी परेशान हो गये. कोई उपाय न होते देख, उन्होंने फैसला किया कि वो गाड़ी को बैक गियर में चलाएंगे. ये काफी खतरनाक फैसला था, लेकिन देव को पास कोई विकल्प भी नहीं था. इस घटना के बाद उनको लगा कि वो बैक गियर में गाड़ी को आराम से चला सकते हैं और अब तो वो बड़े कांफिडेंस के साथ बैक गियर में गाड़ी ड्राइव करते हैं. हरप्रीत अब तक करीब 65 हजार किलोमीटर गाड़ी बैक गियर में चला चुके हैं. इनकी कार में केवल एक फ्रंट गियर है और चार रिवर्स गियर. हरप्रीत ने मैक्निक की सहायता से खुद ही अपनी स्पेशल गाड़ी तौयार की है. अपने इस टैलेंट को आगे बढ़ाने उन्होंने एक बैक गियर ड्राइविंग स्कूल भी खोला है, जहां वे रिवर्स गियर की खूबियां बताते हैं. भटिंडा शहर में जब भी वो गाड़ी लेकर निकलते हैं तो लोग उन्हें बैक गियर में गाड़ी चलाते देखकर हैरान रह जाते हैं. हरप्रीत 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार में रिवर्स गाड़ी चला चुके हैं. हरप्रीत देव के इस कारनामे को वर्ल्ड यूनिक रिकॉर्ड और लिम्का बुक ऑफ रिकॉर्ड ने भी सलाम किया है और उनका नाम अपने पन्ने में दर्ज किया. हरप्रीत देव के साथ उनकी पत्नी के पास भी एक अनोखी कला है. उनकी पत्नी अंग्रेजी और पंजाबी रिवर्स लिखती है. यानी पति रिवर्स गाड़ी चलाते हैं और पत्नी रिवर्स राइटिंग करती है.

Latest Live TV