वीडियो गेम की लत शराब के नशे की तरह: WHO रिपोर्ट

OMG01:13 PM IST May 25, 2019

वीडियो गेम खेलने की लत को जल्द ही आधिकारिक तौर पर बीमारी का दर्जा दिया जा सकता है. दुनिया भर में स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करने वाले WHO ने ऐसा प्रस्ताव रखा है. WHO के मुताबिक विडियो गेम खेलने की लत एक तरह से नशीली दवाओं और शराब की लत की तरह ही है. WHO की दलील है कि विडियो गेम खेलने की लत के शिकार लोग आमतौर पर डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं. यही वजह है कि WHO, गेम खेलने की लत को बीमारी घोषित करने के प्रस्ताव पर जल्द ही वोटिंग करा सकता है. इस बीमारी का नाम गेमिंग डिसऑर्डर है, जिसके शिकार लोग रोज़ाना अपने काम से ज़्यादा वक्त गेम खेलने में बिताते हैं. डॉक्टरों का भी मानना है कि बच्चे इसलिए ज़्यादा बीमार हो रहे हैं क्योंकि वो स्कूल के बाद अपना ज़्यादा वक्त मोबाइल पर गेम खेलने में बिताते हैं.

news18 hindi

वीडियो गेम खेलने की लत को जल्द ही आधिकारिक तौर पर बीमारी का दर्जा दिया जा सकता है. दुनिया भर में स्वास्थ्य के क्षेत्र में काम करने वाले WHO ने ऐसा प्रस्ताव रखा है. WHO के मुताबिक विडियो गेम खेलने की लत एक तरह से नशीली दवाओं और शराब की लत की तरह ही है. WHO की दलील है कि विडियो गेम खेलने की लत के शिकार लोग आमतौर पर डिप्रेशन का शिकार हो जाते हैं. यही वजह है कि WHO, गेम खेलने की लत को बीमारी घोषित करने के प्रस्ताव पर जल्द ही वोटिंग करा सकता है. इस बीमारी का नाम गेमिंग डिसऑर्डर है, जिसके शिकार लोग रोज़ाना अपने काम से ज़्यादा वक्त गेम खेलने में बिताते हैं. डॉक्टरों का भी मानना है कि बच्चे इसलिए ज़्यादा बीमार हो रहे हैं क्योंकि वो स्कूल के बाद अपना ज़्यादा वक्त मोबाइल पर गेम खेलने में बिताते हैं.

Latest Live TV