VIDEO: त्यौहार मनाने गया था शख्स, बैलगाड़ी के नीचे आकर हुई मौत

Gujarat11:22 AM IST Apr 30, 2019

गुजरात के महेसाणा में बैलगाड़ी की नीचे दबकर 18 साल के युवा जयेश पटेल की मौत हो गई. जिस तरह तमिलनाडु में बैलों को दौड़ाकर उनके सिंग से पैसा निकालने की साहसी परंपरा पोंगल त्यौहार के दौरान आयोजित होती है उसी तरह उत्तर गुजरात में चैत्री नवरात्री के दौरान भी लगभग ऐसी ही परंपरा आयोजित होती है. इस परंपरा को 'हाथिया ठठु' कहते हैं, जिसमें बैल गाड़िया दौड़ाई जाती है. बैलगाड़ी के आगे 'हाथी' का मुखौटा लगाकर सुलेश्वरी देवी मां के दर्शन हेतु बैल गाडियों को दौड़ाया जाता है और उसके पीछे लोग भी दौड़ते है. शख्स की मौत के बाद महेसाणा पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी हुई है.

news18 hindi

गुजरात के महेसाणा में बैलगाड़ी की नीचे दबकर 18 साल के युवा जयेश पटेल की मौत हो गई. जिस तरह तमिलनाडु में बैलों को दौड़ाकर उनके सिंग से पैसा निकालने की साहसी परंपरा पोंगल त्यौहार के दौरान आयोजित होती है उसी तरह उत्तर गुजरात में चैत्री नवरात्री के दौरान भी लगभग ऐसी ही परंपरा आयोजित होती है. इस परंपरा को 'हाथिया ठठु' कहते हैं, जिसमें बैल गाड़िया दौड़ाई जाती है. बैलगाड़ी के आगे 'हाथी' का मुखौटा लगाकर सुलेश्वरी देवी मां के दर्शन हेतु बैल गाडियों को दौड़ाया जाता है और उसके पीछे लोग भी दौड़ते है. शख्स की मौत के बाद महेसाणा पुलिस मामले की तहकीकात में जुटी हुई है.

Latest Live TV